मंत्री ने सनेह में दुकान बन्द कराई तो वैन से खुलेआम बेच रहे हैं शराब महिलाओं ने दी आंदोलन की चेतावनी

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। सनेह क्षेत्र की महिलाओं ने आरोप लगाते हुए कहा कि स्थानीय विधायक एवं काबीना मंत्री डॉ. हरक सिंह रावत के आश्वासन के बावजूद भी सनेह चौराहे पर वैन से खुले आम शराब बेची जा रही है। जिससे महिलाओं में रोष व्याप्त है। महिलाओं ने जल्द ही वैन से शराब की बिक्री बंद न होने पर आंदोलन की चेतावनी है।
मंगलवार को सनेह क्षेत्र की महिलाएं समाजसेवी अंजू पुण्डीर के नेतृत्व में तहसील पहुंची। महिलाओं ने प्रभारी तहसीलदार विकास अवस्थी को ज्ञापन सौंपते हुए कहा कि सनेह तल्ली में शराब का ठेका खेला गया। जिसके विरोध में स्थानीय महिलाओं ने आंदोलन किया। आंदोलन बाद शराब की दुकान पर तो ताला दिया गया, लेकिन सनेह चौराहे पर वैन खड़ी करके शराब की बिक्री की जा रही है। उन्होंने कहा कि एक माह पूर्व स्थानीय विधायक एवं प्रदेश के वन मंत्री डॉ. हरक सिंह रावत से शराब की वैन हटाने की मांग को लेकर महिलाओं का एक प्रतिनिधि मंडल मिला। काबीना मंत्री ने महिलाओं को शराब की वैन हटाने का आश्वासन दिया था। महिलाओं ने मंत्री के आश्वासन पर दो सप्ताह के लिए धरना प्रदर्शन स्थगित कर दिया था, लेकिन एक माह बीत जाने के बावजूद भी शराब की वैन सेनह चौराहे पर खुल्लेआम शराब बेची जा रही है। जिस कारण स्थानीय लोगों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि सनेह चौराहे पर वैन से शराब की बिक्री होने से स्थानीय महिलाओं व लड़कियों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। वहीं युवा भी नशे के आदी हो रहे है। ज्ञापन में अंजू पुण्डीर, बीना कोटियाल, सतेश्वरी देवी, रेनू कोठियाल, सतेश्वरी देवी, कुसुम नेगी, शांति नेगी, हिमानी देवी, अर्चना देवी, कमला देवी, रीना, सुमन देवी, मीना देवी, संगीता देवी, किरन देवी, मालती देवी, नन्दी देवी, बबली देवी, उर्मिला देवी, सावित्री देवी, मीना देवी, आशा देवी, सुनीता देवी, विमला देवी, सुशीला देवी, देवेश्वरी देवी, शोभा देवी, छोटी देवी, दीपा देवी, अभिलाषा देवी, गणेशी देवी, रजनी देवी, शशि देवी, लीला देवी, वीना कोटियाल, रेनू कोटियाल, कमला देवी, सुनीता देवी, सुशीला देवी, पार्वती देवी, शोभा देवी, लक्ष्मी देवी, राधा, ऊमा देवी के हस्ताक्षर है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!