नई पारी खेलने से पहले टीएसआर ने लिया गुरु खंडूड़ी का आशीर्वाद

Spread the love

देहरादून। उत्तराखंड के नए मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत के लिए अब सीएम के रूप में नई पारी खेलने से पहले उनके गुरु एवं उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री मेजर जनरल (अ.प्रा.) बीसी खंडूड़ी का आशीर्वाद जरूरी था। इसीलिए वह आज अपने गुरु के पास पहुंचे और उनसे आशीर्वाद लिया। उत्तराखंड के नए मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत के लिए अब सीएम के रूप में नई पारी खेलने से पहले उनके गुरु एवं उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री मेजर जनरल (अ.प्रा.) बीसी खंडूड़ी का आशीर्वाद जरूरी था। इसीलिए वह आज अपने गुरु के पास पहुंचे और उनसे आशीर्वाद लिया। वहीं, वह दोपहर महाकुंभ में शाही स्नान के मौके पर हरिद्वार पहुंचे। उन्होंने साधु संतों पर पुष्प वर्षा की। इसके बाद हरकी पैड़ी में साधु संतो से आशीर्वाद लिया। उन्होंने कहा कि जो भी कुंभ स्नान को आना चाहे, आ सकता है, कोई रोकटोक नहीं है। साथ ही कहा कि व्यवस्थाएं चाक चौबंद हैं। उन्होंने कहा कि साधु संतो को निराश नहीं करना है। उनका खास ख्याल रखना है। इसी को ध्यान में रखते हुए उन्होंने कल ही हेलीकॉप्टर से पुष्प वर्षा के निर्देश दिए थे। इसके बाद महाशिवरात्रि के पावन पर्व पर मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने हरिद्वार में हर की पैड़ी पहुंचकर मां गंगा से प्रदेशवासियों की खुशहाली और सुख-समृद्धि की कामना की। इस अवसर पर शाही स्नान के लिए मां गंगा के तट पर आए साधु-संतों और श्रद्धालुओं का मुख्यमंत्री ने स्वागत किया। इस अवसर पर श्री गंगा सभा के पदाधिकारियों ने भी मुख्यमंत्री श्री रावत का गंगाजली, प्रसाद और चुनरी भेंट कर स्वागत किया। मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने सभी साधु-संतों का आभार माना। मुख्यमंत्री जी ने कहा कि महाशिवरात्रि के पावन पर्व पर मां गंगा में शाही स्नान करने के लिए श्रद्धालु रात से ही जुटने लगे थे। जनता की सुविधा के लिए हमारी सरकार ने सभी इंतजाम कर रखे हैं। कई श्रद्धालुओं ने अलसुबह स्नान किया और वे सुरक्षित अपने घरों को लौटे। इसके पश्चात अखाड़े के साधु-संतों का स्नान शुरू हुआ और सभी ने शांतिपूर्ण तरीके से स्नान किया। सभी अखाड़े के साधु संतों का स्नान होने के पश्चात फिर जनता ने स्नान किया। मुख्यमंत्री जी ने कहा कि कुंभ में जनता के लिए कोई भी रोक-टोक नहीं है, किसी से भी सख्ती नहीं की जाएगी। उन्होंने जनता से निवेदन किया कि कोविड-19 से बचाव की गाइडलाइन का पालन करने के साथ ही मास्क पहनने व सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। मुख्यमंत्री ने कहा कि आज कुंभ का प्रथम शाही स्नान है। इसे विशेष बनाने के लिए सभी साधु-संतों का पुष्पवर्षा कर स्वागत किया गया। उन्होंने कहा कि सभी साधु-संत काफी खुश नजर आ रहे हैं साथ ही प्रशासन भी जनता की समस्याएं दूर करने के लिए मुस्तैदी से लगा है। उन्होंने कहा कि दिव्य, भव्य और सुरक्षित कुंभ के आयोजन के लिए हमारी सरकार प्रतिबद्ध है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!