जम्मू कश्मीर में हुए आतंकी हमलों की जांच करेगा एनआईए, पीड़ित परिवार को अमित शाह का आश्वासन, अगली बार जरूर मिलूंगा

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

श्रीनगर, एएनआई। राजौरी में हुए आतंकवादी हमले की जांच राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण को सौंपी गई है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने शुक्रवार को जम्मू दौरे के वक्त इसकी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि राजौरी आतंकवादी हमले की जांच एनआईए को सौंपी गई है। एनआईए और जम्मू पुलिस दोनों मिलकर इस घटना की जांच करेगी। विगत डेढ़ साल में जितनी भी घटनाएं हुईं हैं उन्हें भी सामने रखते हुए जांच की जाएगी।
केंद्रीय गृह मंत्री आतंकवादी हमले के पीड़ित परिवारों से मिलने जाने वाले थे लेकिन मौसम में खराबी की वजह से उनका राजौरी दौरा टल गया। हालांकि उन्होंने पीड़ित परिवारों से फोन पर बात की और उनकी बातों को गौर से सुना। उन्होंने कहा कि मृतकों के परिवार वालों से मैंने फोन पर बात की है। मैं उनसे मुलाकात के लिए वहां खुद जाने वाला था लेकिन आज मौसम के कारण हम वहां नहीं पहुंच पाए। उनकी बातों को सुना है और मैंने उपराज्यपाल मनोज जी से भी बात की है।
उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर की सुरक्षा में लगी सभी प्रकार की एजेंसियों से सभी पहलुओं पर विस्तृत चर्चा हुई है। आने वाले दिनों में एक बहुत सुरक्षित ग्रीड बनाने की तैयारी की जाएगी। बीएसएफ, सीआरपीएफ, सेना और जम्मू कश्मीर पुलिस समेत सभी पूरी तरह से मुस्तैद है। साथ ही बताया कि संपूर्ण 360 डिग्री सुरक्षा चक्र को लेकर भी चर्चा हुई है।
पीड़ित परिवार की एक सदस्य ने समाचार एजेंसी को बताया कि हमारी केंद्रीय गृह मंत्री के साथ फोन पर बात हुई है। उन्होंने अपनी अगली यात्रा के दौरान हम लोगों से मिलने का आश्वासन दिया है। पीड़ित परिवारों में शामिल सरोज बाला नामक महिला ने बताया कि मैंने अपने दोनों बेटों को ढांगरी हमले (जनवरी, 2023 के पहले सप्ताह) में खो दिया और मैंने उनसे (अमित शाह) आग्रह किया कि वे हमें न्याय दें और उनके हत्यारों को कड़ा जवाब दें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!