वृद्धावस्था पेंशन तीन हजार करने की मांग की

Spread the love

हरिद्वार। वरिष्ठ नागरिक सामाजिक संगठन ने सिटी मजिस्ट्रेट के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन प्रेषित कर वृद्धावस्था पेंशन बढ़ाकर तीन हजार मासिक करने की मांग की है। मुख्यमंत्री को भेजे ज्ञापन में संगठन के पदाधिकारियों की और से कहा गया है कि उत्तराखण्ड सरकार भरण पोषण भत्ते के रूप में वृद्ध पति-पत्नि में से एक को मात्र 12 सौ रूपए मासिक पेंशन उपलब्ध करा रही है। जो महंगाई के इस दौर में अपर्याप्त है। जबकि हरियाणा सरकार द्वारा वृद्ध पति पत्नि दोनों को अलग-अलग न्यूनतम 25 सौ रूपए मासिक पेंशन दे रही है। जिसमें समय समय पर वृद्धि भी की जाती है। उत्तराखण्ड सरकार वृद्ध दंपत्ति को अलग-अलग तीन हजार मासिक पेंशन उपलब्ध कराए। जिससे वे अपना भरण पोषण ठीक प्रकार से कर सकें। साथ ही एकांकी जीवन व्यतीत कर रहे वृद्धों के रहने के लिए प्रत्येक जिले व तहसील में वृद्ध आश्रमों का निर्माण कर उनके भरण पोषण की व्यवस्था करे। ज्ञापन प्रेषित करने वालों में विद्यासागर गुप्ता, योगेंद्र सिंह राणा, पीसी धीमान, चौधरी चरण सिंह, एससीएस भास्कर, हरदयाल अरोड़ा, एन सी काला, केपी शर्मा, बाबूलाल, ताराचंद, प्रेमकुमार, भोपाल सिहं, सीताराम, कर्मवीर सिह, एसएन बत्रा आदि पदाधिकारी शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!