कोटद्वार के इन्द्रानगर और मीट मार्केट मेंं कोरोना की घुसपैठ जारी: प्रशासन ने किये सील, आमपड़ाव में एक और युवती मिली कोरोना संक्रमित 

Spread the love
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। कोटद्वार में कोरोना संक्रमण के मामले आने के बाद प्रशासन पूरी तरह से सर्तक हो गया है। प्रशासन ने इन्द्रानगर आमपड़ाव और मीट मार्केट आमपड़ाव मोहल्ले को माइक्रो कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया है। स्थानीय प्रशासन के अनुसार इन्द्रानगर आमपड़ाव और मीट मार्केट आमपड़ाव के कुछ लोग कोरोना संक्रमित हुए है। स्थानीय निवासियों में कोरोना महामारी को फैलने से रोकने के लिए उनके घर के मोहल्ले को चिन्हित कर माइक्रो कंटेनमेंट जोन घोषित कर सील कर दिया गया है। पूर्व में मोटाढांक, गोरखपुर मवाकोट और लकड़ीपड़ाव में माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाये गये थे।
उपजिलाधिकारी योगेश मेहरा ने बताया कि कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाने का निर्णय लिया गया है। विगत 11 अगस्त को मीट मार्केट आमपड़ाव निवासी एक युवक की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। उन्होंने बताया कि विगत 8 अगस्त को इन्द्रानगर आमपड़ाव निवासी एक महिला की एम्स ऋषिकेश में मृत्यु हो गई थी। महिला की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। जिसके पश्चात कान्टेक्ट ट्रेसिंग में उनके परिवार के अन्य सदस्यों की कोरोना जांच के लिए सैंपल भेजे गये। मृतक महिला के परिवार के सदस्यों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई थी। उक्त क्षेत्र में कोरोना वायरस के संक्रमण के प्रसार के दृष्टिगत जिलाधिकारी गढ़वाल के आदेश पर तहसील कोटद्वार के अन्तर्गत दैवीय आपदा हेतु गठित आईआरटी का यह समाधान हो गया है कि उक्त क्षेत्र में उपरोक्त व्यक्तियों के संवाहक के रूप में आम जनमानस में कोविड-19 के प्रसार की संभावना के दृष्टिगत स्थानीय निवासियों को मुख्य धारा से पृथक किया जाना आवश्यक है। एसडीएम योगेश मेहरा ने बताया कि प्रभारी चिकित्साधिकारी/नोडल अधिकारी दुगड्डा कोटद्वार, तहसीलदार कोटद्वार की रिपोर्ट के आधार पर इन्द्रानगर आमपड़ाव और मीट मार्केट आमपड़ाव में चिन्हित क्षेत्र को माइक्रो कंटेनमेंट जोन घोषित कर सील कर दिया है। उन्होंने कहा कि उक्त माइक्रो कंटनमेंट जोन में उक्त अवधि में स्वास्थ्य विभाग द्वारा स्क्रीनिंग एवं चिकित्सीय परीक्षण, सम्पर्क में आये व्यक्तियों की पहचान, प्राइमरी व्यक्तियों के कॉन्टेक्ट, प्राईमरी कॉन्टेक्ट के आइसोलेशन, चिकित्सीय परीक्षण एवं आवश्यकतानुसार सैम्पल लिये जाने एवं सैम्पलों की रिपोर्ट के आधार पर आंकलन किये जाने उपरान्त उपरोक्त प्रतिबन्धों में छूट किये जाने अथवा समाप्ति पर विचार किया जायेगा। उन्होंने बताया कि जिस क्षेत्र में कोरोना के अधिक मामले आयेगें वहां माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाकर लोगों का कोरोना टेस्ट किया जायेगा। ऐसी जगह चिन्हित करने के लिए एक टीम बनाई गई है।
आमपड़ाव में एक और युवती मिली कोरोना संक्रमित 
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। जनपद पौड़ी गढ़वाल के आमपड़ाव कोटद्वार में एक युवती कोरोना संक्रमित पाई गई है। गत गुरूवार को भी आमपड़ाव में एक वर्षीय मासूम बच्ची और एक युवक की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। आमपड़ाव में लगातार बढ़ रहे कोरोना मरीजों की संख्या से लोग दहशत में है। शुक्रवार को पौड़ी जिले में चार लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या अब 306 से बढ़कर 310 हो गई है।
जिला पौड़ी गढ़वाल के कोरोना रोकथाम वार रूम की रिपोर्ट के अनुसार आमपड़ाव निवासी 14 वर्षीय लड़की का कौड़िया चेक पोस्ट पर विगत 10 अगस्त को स्वास्थ्य विभाग की टीम ने कोरोना जांच के लिए सैंपल लेकर भेज दिया था। शुक्रवार को लड़की की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। लड़की को कोविड केयर सेंटर कौडिया में आइसोलेट कर दिया गया है। लड़की कोरोना संक्रमित के संपर्क में आई थी। वहीं चीला हाइड्रो प्रोजेक्ट की कॉलोनी निवासी 25 वर्षीय युवक का गरूड़चट्टी में स्वास्थ्य विभाग की टीम ने कोरोना जांच के लिए सैंपल लिया था। इसके अलावा ऋषिकेश निवासी 56 वर्षीय हरिद्वार निवासी 52 वर्षीय युवक का सैंपल कोरोना जांच के लिए लिया गया। शुक्रवार को उक्त तीनों की रिपोर्ट भी कोरोना पॉजिटिव आई है। ज्ञात हो कि गत गुरूवार को प्रदेश के सबसे महत्वपूर्ण चीला हाइड्रो प्रोजेक्ट की कॉलोनी में एक साथ 14 लोगों के कारोना पॉजिटिव पाई गई थी। जिसमें एक नाबालिग सहित 10 पुरूषों व 4 महिलाएं शामिल थी। जिन्हें गीता आश्रम और परमार्थ निकेतन कोविड केयर सेंटर में भर्ती कराया गया था। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने गरूड़चट्टी में विगत 10 अगस्त को कोरोना जांच के लिए सैंपल लिये गये थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!