पहाड़ी से लुढ़का बोल्डर, पूर्वी नयार नदी में समाई सड़क 

Spread the love
जयन्त प्रतिनिधि।
पौड़ी। वीरोंखाल ब्लॉक के अंतर्गत कोटा-लेंगल मोटर मार्ग का सपना ग्रामीणों के लिए सपना ही बनकर रह गया। पिछले पंद्रह वर्षों से सड़क की मांग कर रहे ग्रामीणों के गांव तक सड़क तो पहुंची। लेकिन इससे पहले सड़क पर वाहनों की आवाजाही होती, चट्टान से लुढ़का एक बोल्डर सड़क के बड़े हिस्से को पूर्वी नयार में समा दिया। सड़क की गुणवत्ता को लेकर ग्रामीण पूर्व से ही आवाज उठा रहे थे, लेकिन किसी ने उनकी बात नहीं सुनी।
कोटा-लेंगल, दुनाव, ढुसोड़ी के सैकड़ों ग्रामीण पिछले 15 वर्षों से सड़क निर्माण की मांग उठा रहे थे। इसी वर्ष मार्च माह में शासन ने प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत सात करोड़ की लागत से मार्ग निर्माण की स्वीकृति प्रदान कर दी। पीएमजीएसवाई के बैजरो खंड को सड़क निर्माण का जिम्मा दिया गया। ग्राम लेंगल निवासी सुनील रावत, पवन भट्ट, राजेश कुमार ने बताया कि प्रथम व द्वितीय चरण में सड़क कटान कार्य के साथ ही सड़क का समतलीकरण किया गया। साथ ही पुश्ते भी बनाए गए। उन्होंने बताया कि तीन दिन पूर्व सड़क गांव तक पहुंची तो ग्रामीण इसी सड़क से होकर गांव के मंदिर में पहुंचे। मंदिर में पूजा-अर्चना के बाद जब ग्रामीण गांव की ओर लौटने लगे तो गांव से करीब एक किलोमीटर पहले सड़क गायब हो गई। उन्होंने बताया कि चट्टान से गिरा भारी बोल्डर सड़क पर गिरा और सड़क नयार नदी में समा गई। ग्रामीणों की ओर से सड़क की गुणवत्ता को लेकर लगातार सवाल उठाए जा रहे थे, लेकिन विभागीय अधिकारियों ने ग्रामीणों की शिकायत पर कोई ध्यान नहीं दिया। उधर, अधिशासी अभियंता, पीएमजीएसवाई, बैजरो खंड एसएस यादव का कहना है कि सड़क टूटने की जानकारी नहीं है। यदि सड़क टूटी है तो जल्द ही सड़क की मरम्मत कर दी जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!