पनियाली गदेरे में बाढ़ सुरक्षा कार्य करवाना जरूरी: मेयर

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। नगर निगम कोटद्वार की महापौर श्रीमती हेमलता नेगी ने बाढ़ प्रभावित पनियाली गदेरे का निरीक्षण किया। पनियाली गदेरे में बाढ़ सुरक्षा कार्य न करवाये जाने पर मेयर ने नाराजगी जताते हुए कहा कि पनियाली गदेरे में बाढ़ सुरक्षा कार्य करवाना बहुत जरूरी है।
महापौर श्रीमती हेमलता नेगी ने कहा कि बाढ़ सुरक्षा कार्यो को लेकर विगत वर्ष शासन व जिलाधिकारी को साढे़ चार करोड़ का इस्टीमेट भेजा गया था, लेकिन पूरा साल गुजर जाने के बाद भी बाढ़ सुरक्षा कार्य नहीं करवाये गये। जिस कारण विगत दिनों आई भारी बारिश के चलते पनियाली गदेरे का सारा पानी लोगों के घरों में घुस गया था। घरों में पानी व मलबा घुसने से लोगों का अधिकांश सामान खराब हो गया है। उन्होंने कहा कि यदि समय रहते बाढ़ सुरक्षा कार्यो को नहीं करवाया गया तो आने वाली बरसात में भयानक मंजर देखने को मिल सकता है। महापौर ने कहा कि बाढ़ के दृष्टिकोण से पनियाली स्रोत में बाढ़ सुरक्षा कार्य करवाया जाना जरूरी है। इस मौके पर पूर्व मंत्री सुरेन्द्र सिंह नेगी, जिलाध्यक्ष डा़ चंद्रमोहन खर्कवाल, महानगर अध्यक्ष संजय मित्तल, कृष्णा बहुगुणा, कमला शाह, आशाराम, शहनाज शम्सी, जितेन्द्र भाटिया, महेन्द्र, कृष्णा प्रजापति, बलवीर रावत, विजय रावत, महावीर रावत आदि मौजूद थे। (फोटो संलग्न है)
कैप्शन05: पूर्व मंत्री एसएस नेगी व मेयर श्रीमती हेमलता नेगी पनियाली गदेरे का निरीक्षण करते हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!