सड़क चौड़ीकरण व पुल निर्माण को लेकर लोगों ने किया प्रदर्शन

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

जयन्त प्रतिनिधि।
श्रीनगर गढ़वाल: गंगोरी के पास पक्का स्थायी पुल निर्माण तथा ज्ञानसू, तेखला, गंगोरी, नेताला से होते हुए गंगोत्री तक डबल लेन सड़क का निर्माण किए जाने की मांग को लेकर पर्यटन कारोबारियों, जनप्रतिनिधियों और लोगों ने प्रदर्शन किया। लोगों ने एसडीएम के माध्यम से केन्द्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गड़करी को ज्ञापन प्रेषित कर शीघ्र समस्या के निस्तारण की मांग की।
सोमवार को तय कार्यक्रम के अनुसार चारधाम सड़क संघर्ष समिति के बैनर तले होटल व्यवसायी, स्थानीय दुकानदार, क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि व ग्रामीण प्रधान संगठन के अध्यक्ष प्रताप रावत व होटल एसोसिएशन के अध्यक्ष शैलेन्द्र मटूड़ा के नेतृत्व में तेखला पुल के पास एकत्रित हुए। जहां से सभी ने गंगोरी तक जुलूस निकाला और सीमा सड़क संगठन की कार्यशैली व सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। इस मौके पर संघर्ष समिति के पदाधिकारियों ने कहा कि वर्ष 2012 की आपदा में गंगोरी पुल असी गंगा नदी के ऊफान पर आने से ध्वस्त हो गया था, लेकिन 14 साल बाद भी स्थायी पुल का निर्माण नहीं हो पाया है। वहीं बीआरओ की ओर से ऑल वेदर परियोजना के तहत निर्माणाधीन गंगोत्री हाईवे को डायवर्ट कर तेखला स्यूणा सिरोर से होते हुए हीना से जोड़ा जा रहा है। जिसका प्रतिकूल असर गंगोरी, गणेशपुर, नेताला के होटल कारोबारियों व व्यापारियों व ग्रामीणों पर पड़ेगा। जिस पर उन्होंने नाराजगी व्यक्त की और प्रदर्शन किया। उन्होंने मौके पर पहुंचे एसडीएम भटवाड़ी चतर सिंह चौहान के माध्यम से केन्द्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी को ज्ञापन प्रेषित किया और गंगोरी वैली ब्रिज के पास धरना देकर बड़ेथी से ज्ञानसू, तेखला, गंगोरी, नेताला, होते हुए गंगोत्री तक सड़क का चौड़ीकरण करने व असी गंगा नदी पर पक्का पुल का निर्माण करने की मांग की। वहीं ज्ञापन में चेतावनी दी कि यदि 30 सितंबर तक उनकी मांगों पर विचार नहीं किया गया तो वह एक अक्तूवर से आमरण अनशन करने को बाध्य होंगे। प्रदर्शनकारियों में जिपं सदस्य मनोज मिनान, गंगोत्री के रावल अशोक सेमवाल, प्रधान सुनील नेगीसरिता राणा, सुनील राणा, मीना मखलोगा, नीलम रावत, पालिका सभासद देवेंद्र चौहान, कमल रावत, विजयपाल मखलोगा, अजय पुरी, खुशाल नेगी, महावीर राणा सहित स्थानीय ग्रामीण मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!