पूर्णागिरि धाम में 17 घंटे बिजली आपूर्ति ठप

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

चम्पावत। तेज अंधड़ और मेला क्षेत्र में पेड़ गिरने से पूर्णागिरि धाम में 17 घंटे बिजली आपूर्ति ठप रही। इससे पूरे पूर्णागिरि क्षेत्र में संचार व्यवस्था चरमरा गई। साथ ही श्रद्घालुओं को नेटवर्क और बिजली न होने से पूरी रात परेशानी का सामना करना पड़ा। बत्ती गुल होने से पानी की मोटरें भी नहीं चल सकीं। बीते शुक्रवार शाम करीब 6 बजे तेज हवा और अंधड़ चली। इससे बूम क्षेत्र में एक पेड़ बिजली की मुख्य लाइन में गिर गया। इससे बिजली गुल हो गई। इससे ठुलीगाड़ से ऊपर मेला क्षेत्र में अंधेरा छा गया। शनिवार को सुबह तक बिजली सुचारु नहीं होने से माता के दर्शन को आए श्रद्घालुओं को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। सबसे अधिक दिक्कत पेयजल सप्लाई की रही। वहीं बिजली न होने से 17 घंटे तक संचार व्यवस्था ठप रही। सूचनाओं के आदान प्रदान करने में सहयोग करने वाले पुलिस और मंदिर समिति के वकी-टकी भी ठप रहे। जिस कारण मेला क्षेत्र से टनकपुर शहर का संपर्क टूटा रहा। इधर, मेले में भीड़ का आंकलन करने के लिए लगाए गए सीसीटीवी भी शोपीस बने रहे। हालांकि श्रद्घालुओं की दिक्कत को पुजारियों ने जनरेटर चलाकर दूर की। पुजारी मोहन पांडेय, बीडी भट्ट, नेत्रबल्लभ तिवारी ने बताया कि बिजली न होने से परेशानी का सामना करना पड़ता है। शनिवार को करीब 11 बजे पूर्णागिरि धाम में बिजली आपूर्ति सुचारु हो सकी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!