नेशनल यूनियन अफ जर्नलिस्ट्स इंडिया की प्रदेश कार्यकारिणी के चुनाव की तैयारी शुरू

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

हरिद्वार। नैनीताल में नेशनल यूनियन अफ जर्नलिस्ट्स, इंडिया उत्तराखंड के प्रांतीय कार्यसमिति की बैठक में जल्द ही चुनाव कराने का निर्णय लिया गया। चुनाव अधिकारी की जिम्मेदारी मुख्य संरक्षक ब्रह्मदत्त शर्मा को सौंपी गई, वहीं सहायक चुनाव अधिकारी के रूप में डा़रंजन तिवारी को चुना गया। बताया गया कि यूनियन के संविधान के अनुसार दो वर्ष के लिए कार्यकारिणी का चयन किया जाता है। वर्तमान प्रदेश कार्यकारिणी का दो वर्ष का कार्यकाल पूरा हो गया है। ऐसे में यूनियन के समक्ष जल्द ही चुनाव कराने की जिम्मेदारी है। संविधान के नियम का पालन करते हुए यूनियन के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रामचंद्र कनौजिया की ओर से मुख्य प्रदेश संरक्षक को चुनाव अधिकारी नियुक्त किया गया है उनके साथ डा.गिरीश रंजन तिवारी को सहायक चुनाव अधिकारी की जिम्मेदारी दी गई है। दोनों अधिकारी मिलकर जल्द ही चुनाव तिथि की घोषणा करेंगे। गौरतलब है कि पत्रकारों के देश के सबसे बड़े संगठन, ट्रेड यूनियन में भी पंजीत, जनवरी 1972 में स्थापित नेशनल यूनियन अफ जर्नलिस्ट्स- इंडिया की उत्तराखंड प्रदेश की कार्यसमिति की बैठक गुरुवार को नैनीताल क्लब में आयोजित हुई। बैठक में प्रदेश के पत्रकारों की विभिन्न समस्याओं पर चर्चा हुई एवं इस संबंध में प्रदेश के मुख्यमंत्री को ज्ञापन के माध्यम से मांगपत्र सोंपने का निर्णय लिया गया। साथ ही संगठन के प्रदेश अध्यक्ष कैलाश जोशी की दो वर्ष के कार्यकाल के उपरांत उच्च आदर्श स्थापित करते हुए पद त्याग की इच्छा जताने पर नए चुनाव कराने का निर्णय लिया गया। इस पर चुनाव हेतु प्रदेश संरक्षक ब्रह्म दत्त शर्मा को चुनाव अधिकारी एवं प्रदेश उपाध्यक्ष डा.गिरीश रंजन तिवारी को सह चुनाव अधिकारी मनोनीत किया गया।
बैठक में प्रदेश अध्यक्ष जोशी के कार्यकाल में संगठन का नवीन पंजीकरण कराने एवं प्रांतीय कार्यकारिणी में दिए गए योगदान की सभी ने सराहना की। जोशी ने पिछले दो वर्षों के कार्यों एवं आय-व्यय का लेखा-जोखा भी प्रस्तुत किया। बैठक में पदाधिकारियों ने मुख्यमंत्री द्वारा संगठन के 15 मई को आयोजित प्रदेश सम्मेलन में की गई पत्रकार सुरक्षा कानून लाने की घोषणा को पूरा करने, राज्य में पत्रकारों की मान्यता समिति एवं विज्ञापन समितियों का गठन किए जाने, जिलों में पत्रकार स्थायी समिति की बैठकें नियमानुसार हर तीन माह में किए जाने, राज्य अतिथि गृहों में उपलब्धता के आधार पर स्थानीय स्तर से ही पत्रकारों हेतु कक्ष आवंटित किए जाने, राज्य में पत्रकारों की मान्यता में 12 हजार रुपए से कम वेतन एवं संपादक, मुद्रक व प्रकाशक होने पर मान्यता न दिए जाने के प्राविधानों पर आपत्ति जताने तथा राज्य में समाचार पोर्टलों की बाढ़ को नियंत्रित किए जाने एवं इसमें फर्जीवाड़े व मनमानी को रोकने सहित विभिन्न मुद्दों पर प्रदेश के मुख्यमंत्री को ज्ञापन दिए जाने के निर्णय भी लिए गए। प्रदेश संरक्षक ब्रह्म दत्त शर्मा ने संगठन के प्रयासों से राज्य में बुजुर्ग पत्रकारों की पेंशन की धनराशि 5 से बढ़ाकर 8 हजार किए जाने एवं राज्य अतिथि गृहों में पूर्व की तरह पत्रकारों के रहने का व्यय राज्य सरकार द्वारा वहन किए जाने के शासनादेश शीघ्र जारी किए जाने का सीएम से आश्वासन मिलने पर हर्ष जताया। राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राम चंद्र कन्नौजिया ने संगठन की राष्ट्रीय इकाई के प्रयासों से देश भर के पत्रकारों को इसी सितंबर माह से पुन: रेलवे में पास की व्यवस्था लागू किए जाने का आश्वासन मिलने की जानकारी दी। इससे पूर्व सभी पदाधिकारियों का यूनियन की महिला सदस्यों कंचन वर्मा, गुजन मेहरा व सीमा नाथ ने पारंपरिक परिधानों में तिलक लगाकर स्वागत किया। कार्यक्रम में स्थानीय विधायक सरिता आर्य ने भी उपस्थित होकर पत्रकार हितों के विषयों को संबंधितों के माध्यम से हल कराने का आश्वासन दिया। बैठक में प्रदेश महामंत्री सुशील त्यागी, वरिष्ठ उपाध्यक्ष संजय तलवार, उपाध्यक्ष डा.गिरीश रंजन तिवारी, कोषाध्यक्ष विकास झा, सचिव मनोज लोहनी व एम हसनैन, प्रवक्ता डाज़फर सैफी, कुमाऊं मंडल अध्यक्ष दिनेश जोशी, महामंत्री भगवान सिंह गंगोला, नैनीताल जिलाध्यक्ष डा़नवीन जोशी, महामंत्री नवीन पालीवाल, ऊधमसिंह नगर जिलाध्यक्ष कमल श्रीवास्तव, अल्मोड़ा सतीश जोशी, हरिद्वार राहुल वर्मा, पिथौरागढ़ सुशील खत्री, नैनीताल जिलाध्यक्ष अफजल हुसैन ‘फौजी’, संगठन मंत्री राजू पांडे, गोपाल नाथ अधिकारी सहित अन्य गणमान्य पदाधिकारी मौजूद रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!