राम सिंह रावत के जीवन को बताया प्रेरणास्रोत

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। स्वदेशी जागरण मंच ने वरिष्ठ समाजसेवी एवं पूर्व सप्लाई इंस्पेक्टर राम सिंह रावत के आकस्मिक निधन पर शोक व्यक्त करते हुए भावभीनी श्रद्धाजंलि दी। भाजपा के वरिष्ठ नेता व उद्योगपति धीरेन्द्र सिंह चौहान ने भी राम सिंह रावत के निधन पर गहरा शोक व्यक्त करते हुए कहा कि उनका जीवन हम सबके लिये प्रेरणास्रोत है। राम सिंह रावत के तीन पुत्र व एक बेटी हैं। राम सिंह रावत के पौत्र आशीष रावत ने बताया कि उनके दादाजी गांव-पहाड़ की समस्याओं के लिये सदैव सक्रिय रहते थे एवं गांव के लोगों को पढ़ने लिखने के लिये सदैव प्रोत्साहित करते रहते थे तथा स्वयं पढ़ाते भी थे।
बुधवार को आयोजित शोकसभा में वक्ताओं ने कहा कि वरिष्ठ समाजसेवी एवं पूर्व सप्लाई इंस्पेक्टर राम सिंह रावत का 104 वर्ष की आयु मे कोटद्वार के बीईएल कॉलोनी स्थित निवास में 18 जून को निधन हो गया। मूल रुप से सतपुली निवासी राम सिंह रावत अपने आखरी दिनों तक काफी सक्रिय रहे। जृून माह की शुरुवात में उन्होंने ‘स्वदेशी डिजीटल हस्ताक्षर अभियान’ का शुभारंभ किया था। आध्यात्मिक गुरु एवं देश के जाने-माने ज्योतिषाचार्य डॉ. पवन सिन्हा ने कहा कि आध्यात्म, योग व प्रणायाम राम सिंह के जीवन के अभिन्न अंग रहे और यही कारण रहा कि उन्होंने अपना इतना लम्बा जीवन शांति व स्वस्थ रहकर जीया। स्वदेशी जागरण मंच के प्रांत संघर्ष वाहिनी प्रमुख प्रवीण पुरोहित ने कहा कि राम सिंह सही मायनों में स्वदेशी के ध्वजवाहक रहे, उनका जीवन व जीवनशैली हम सभी के लिये प्रेरणादायक है। सतपुली नगर पंचायत की अध्यक्ष अंजना वर्मा, स्वदेशी जागरण मंच के क्रांति कुकरेती, नरेंद्र सिंह, मेहरबान सिंह रावत, कृष्णा नेगी, अनिल बिंजोला, प्रमोद अग्रवाल, पूर्णिमा बर्थवाल आदि ने राम सिंह रावत के निधन पर शोक व्यक्त किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!