24 घंटे में 44 लाख लोगों तक पहुंचा सड़क सुरक्षा का संदेश

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

हल्द्वानी। सड़क सुरक्षा सप्ताह के तहत परिवहन विभाग सड़क हादसों को कम करने के लिए विभिन्न कार्यक्रमों के माध्यम से वाहन चालकों को यातायात नियमों के प्रति जागरूक कर रहा है। साथ ही आम लोगों से सीधे जुड़ने के लिए सोशल मीडिया का इस्तेमाल कर रहा है। यातायात नियमों की जानकारी और सुरक्षित यात्रा को लेकर एआरटीओ प्रशासन विवेक पांडे ने यू ट्यूबर सौरभ जोशी के साथ मिलकर शनिवार को एक कार्यक्रम किया। इसमें एआरटीओ पांडे ने कहा कि दुर्घटनाएं दुर्भाग्य या खराब किस्मत के चलते नहीं बल्कि लापरवाही के चलते होती हैं। सड़क दुर्घटना में मौत की वजह सिर पर चोट लगना होता है। ऐसे में सही तरीके से हेलमेट और सीट बेल्ट पहनने से सड़क दुर्घटनाओं में होने वाली मौतों को कम किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि देश में हर साल 5 लाख सड़क दुर्घटनाएं होती हैं जिसके चलते करीब 1़5 लाख लोगों की मौत होती है। यानि हर चार मिनट में एक दुर्घटना व एक व्यक्ति की मौत होती है। एआरटीओ विमल पांडे की पत्नी व शिक्षा अधिकारी दीप्ति जोशी ने कहा कि हादसे में सबसे ज्यादा युवाओं की मौत होती है। ऐसे में युवाओं को ट्रैफिक के नियमों को लेकर संजीदा होना पड़ेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!