सायरस मिस्त्री की मौत पर शरद पवार ने कहा- हाईवे पर वाहनों की तेज गति पर रोक लगाने की जरूरत

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

मुंबई, एजेंसी। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के प्रमुख शरद पवार ने रविवार को सड़क दुर्घटना में साइरस मिस्त्री की मौत को चौंकाने वाला बताते हुए कहा कि राजमार्गों पर गति सीमा नीति (ेचममक सपउपज चवसपबल) को सख्ती से लागू किया जाना चाहिए। 54 साल के मिस्त्री की रविवार दोपहर सड़क दुर्घटना में मौत हो गई।
राकांपा प्रमुख पवार ने कहा, श्देश में कुछ परिवार ऐसे हैं जो लाइमलाइट से दूर रहना पसंद करते हैं लेकिन देश के विकास में उनका योगदान बहुत बड़ा होता है। शापूरजी पलोनजी मिस्त्री (ैींचववतरप च्ंससवदरप डपेजतल ) ने देश के विभिन्न परियोजनाओं में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई और अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया है।श् उन्होंने मिस्त्री के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा कि राजमार्गों पर गति सीमा को सख्ती से लागू करने की जरूरत है। पवार ने कहा कि पिछले कुछ सालों के दौरान देश में सड़कों की स्थिति काफी बेहतर हुई है। हालांकि सड़कों पर तेज गति से वाहन चलाना आजकल आम होता जा रहा है।
पवार ने कहा कि मिस्त्री परिवार की पूंजी एक समय में टाटा से अधिक थी। उन्होंने कहा कि साइरस मिस्त्री उद्योगों की युवा पीढ़ी का प्रतिनिधित्व कर रहे थे। वह लंबे समय तक टाटा समूह के निदेशक मंडल में शामिल थे और बाद में उन्हें टाटा समूह का प्रमुख बना दिया गया। मिस्त्री को टाटा समूह का नेतृत्व करने के लिए बहुत कम समय मिला। हालांकि उन्होंने इतने कम समय में काफी बेहतर काम किया। उन्होंने कहा कि दुर्भाग्य से, टाटा समूह में सहयोगियों के साथ एकमत नहीं हो पाई, जिसके कारण उन्हें अपना पद छोड़ना पड़ा।
पवार ने कहा कि मिस्त्री के निधन से बहुत बड़ा सदमा लगा है। मिस्त्री की कार का जिस तरह से एक्सीडेंट हुआ है उसकी कल्पना भी नहीं की जा सकती है। उन्होंने आगे कहा, श् मेरी बेटी सांसद सुप्रिया सुले तथा साइरस सप्ताह में कम से कम एक बार लंबे समय के लिए मिलते थे। हालांकि मैं व्यक्तिगत रूप से उनके संपर्क में नहीं थाश्

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!