रुड़की को जीएफसी कैटेगरी में मिला फस्र्ट स्टार

Spread the love

-पहली बार रुड़की ने इस कैटेगरी में शामिल होकर हासिल की उपलब्धि
जयन्त प्रतिनिधि।
रुड़की : देश के गार्बेज फ्री सिटी (जीएफसी) की कैटेगरी में अब रुड़की भी शामिल हो गया है। रुड़की को जीएफसी कैटेगरी में फस्र्ट स्टार मिला है। यह पहला मौका है जब रुड़की ने इस कैटेगरी में शामिल होकर यह उपलब्धि हासिल की है। इस कैटेगरी के बाद रुड़की देश के कूड़ा मुक्त शहरों में शामिल हो गया है। स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 में रुड़की ने पूरे देश में 101वीं रैंक हासिल की है। जबकि प्रदेश के स्वच्छ शहरों में रुड़की ने दूसरा स्थान हासिल किया है। इससे पहले रुड़की तीन बार प्रदेश में प्रथम व दो बार दूसरे स्थान पर आ चुका है। लेकिन, इस सबके बाद भी रुड़की जीएफसी यानी कूड़ा मुक्त शहरों की श्रेणी में नहीं आ पाया था। इस बार के सर्वे में रुड़की ने जीएफसी में अपनी जगह बना ली है।
दो सालों में रैकिंग में हुआ जबरदस्त सुधार रुड़की के जीएफसी कैटेगरी में शामिल होने से नगर निगम रुड़की के अधिकारी व कर्मचारी उत्साहित हैं। रुड़की शहर की स्वच्छ सर्वेक्षण रैच्कग में पिछले दो सालों में काफी सुधार दर्ज हुआ है। दो सालों में रुड़की नगर निगम ने 180 रैंक को क्रास कर दिया है। स्वच्छ सर्वेक्षण वर्ष 2019 में रुड़की की रैंक 281 थी। वर्ष 2020 में यह रैंक 131 पर आ गई। जबकि इस वर्ष यह रैंक 101 हो गई है। इसी के चलते शहर को देश के गार्बेज फ्री सिटी यानी कूड़ा मुक्त शहरों में शामिल किया गया है।
सर्वेक्षण में शहर की सफाई व्यवस्था को अलग-अलग पैमाने पर परखा जाता है। प्रतिदिन की सफाई, च्सगल प्लास्टिक यूज का इस्तेमाल कैसा है, नालों की सफाई व्यवस्था कैसी है, कूड़ा निस्तारण आदि इसमें शामिल होता है। इसके अलावा स्थानीय निवासियों से फीडबैक भी लिया जाता है।
बाक्स
ओडीएफ प्लस में भी आया रुड़की
रुड़की खुले में शौच मुक्त (ओडीएफ प्लस) में भी शामिल हुआ है। हालांकि यह खिताब रुड़की को पहले भी मिल चुका है। सहायक नगर आयुक्त चंद्रकांत भट्ट ने बताया कि शहर में तीन दर्जन सार्वजनिक शौचालय हैं। सभी शौचालय अच्छी हालत में है। नियमित रूप से इनकी सफाई होती है। इनमें हाईटेक शौचालय भी शामिल हैं। इस बार नगर निगम रुड़की ने ओडीएफ प्लस-प्लस के लिए आवेदन करेगा। रुड़की नगर निगम की नगर आयुक्त नूपुर वर्मा का कहना है कि जीएफसी कैटेगरी में रुड़की शहर के आने का श्रेय निगम के सफाई कर्मियों के साथ ही शहर की जनता को भी जाता है। यह कैटेगरी बता रही है कि शहर के लोग नियमों का पालन कर रहे हैं। सहायक नगर आयुक्त चंद्रकांत भट्ट का कहना है कि नगर निगम रुड़की इस बार जीएफसी में थ्री व फाइव स्टार के लिए प्रयास करेगा। जहां दिक्कत है उसे भी सुधारा जाएगा। वेस्ट टू एनर्जी व सोलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट शुरू होने पर रुड़की सेवन स्टार तक पहुंच जाएगा।
—-

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!