तीन दिन और सेल्फ होम क्वारंटाइन पर रहेंगे सीएम त्रिवेंद्र रावत

Spread the love

संवाददाता, देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत तीन दिन और सेल्फ होम क्वारंटाइन पर रहेंगे। वे इस दौरान क्वारंटाइन में ही रहकर अफसरों से कोरोना महामारी पर प्रभावी नियंत्रण के लिए दिशा-निर्देश देंगे। उन्होंने मंत्रियों को भी स्वास्थ्य विभाग की गाइड लाइन के पालन के निर्देश दिए हैं। शनिवार को कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज की पत्नी व पूर्व कैबिनेट मंत्री अमृता रावत और रविवार को महाराज के कोरोना पॉजिटिव की पुष्टि के बाद ही सीएम त्रिवेंद्र ने सतर्कता बरतनी शुरू कर दी थी। दरअसल, शुक्रवार को हुई मैराथन कैबिनेट में महाराज भी बैठक में मौजूद थे। सीएम त्रिवेंद्र ने %हिन्दुस्तान% को बताया कि शनिवार से ही उन्होंने अतिरिक्त सतर्कता बरतनी शुरू कर दी थी। वे अभी तीन दिन और सेल्फ होम क्वारंटाइन पर रहेंगे। उन्होंने कैबिनेट में मौजूद अन्य मंत्रियों को भी स्वास्थ्य विभाग की गाइड लाइन के पालन की हिदायत दी। कहा कि हालांकि, कैबिनेट के सभी सदस्य हाई रिस्क में नहीं हैं और कैबिनेट के दौरान सभी सोशल डिस्टेसिंग के साथ ही मास्क पहने थे, लेकिन फिर भी एहतियात बरतना अच्छी बात है। उन्होंने कहा कि कोविड का मुकाबला सतर्कता से किया जा सकता है। त्रिवेंद्र ने कहा कि कैबिनेट मंत्री महाराज, उनकी पत्नी अमृता व परिवार के अन्य सदस्य बिल्कुल स्वस्थ हैं। वे जल्द कोरोना को मात देकर स्वस्थ होकर लौटेंगे। यह पूछे जाने पर कि होम क्वारंटाइन में रहकर काम करना कितनी बड़ी चुनौती है ? सीएम ने कहा कि निश्चित तौर पर चुनौती है, लेकिन हमें अपने डॉक्टरों, प्रशासन व कोरोना वारियर्स पर पूरा भरोसा है कि वे इस जंग का आसानी से मुकाबला करेंगे। उन्होंने फिर दोहराया कि इस बीमारी से घबराने की जरूरत नहीं है, बल्कि जरूरत है तो सावधानी बरतने की।
सीएम सचिवालय रहेगा तीन दिन बंद
सचिवालय स्थित चौथा तल को सेनेटाइज करने के बाद बंद कर दिया। मुख्यमंत्री कार्यालय, कैबिनेट कक्ष, आगुंतक कक्ष, अफसरों, निजी सचिव, ओएसडी व स्टाफ के कक्ष को सेनेटाइज किया गया।
तीन दिन तक ये सभी दफ्तर बंद रहेंगे। एहतियात के तौर पर सुरक्षा कर्मचारी चौथे तल में जाने की किसी को अनुमति नहीं दे रहे हैं। वहीं, सीएम आवास के गेट पर इस दौरान किसी को प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!