बग्घा 54 में एक ही रात में चार लोगों की मौत से हड़कंप

Spread the love

रुद्रपुर। सुरई वन रेंज के बीच यूपी सीमा से लगे जंगल में बसे बग्घा 54 गांव में मंगलवार रात अचानक हुई चार मौतों से गांव में दहशत का माहौल है। सेक्टर मजिस्ट्रेट ने गांव का दौरा करने के बाद मामले को कोरोना संदिग्ध मानते हुये सैंपलिंग की जरूरत जतायी। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग ने गांव के लिये टीम रवाना कर दी है। बग्घा 54 सरपुड़ा गांव का तोक वन ग्राम है। तहसील मुख्यालय खटीमा से सड़क मार्ग से इस गांव की दूरी लगभग 40 किलोमीटर है। गांव जाने के लिए यूपी के पीलीभीत जनपद के न्यूरिया होते हुए जाना पड़ता है, दूसरा रास्ता सुरई वन रेंज की फॉरेस्ट रोड का है। इस सड़क से गांव की दूरी 20 किलोमीटर है। बताया जा रहा है कि मंगलवार को सेक्टर मजिस्ट्रेट (एडीओ उद्यान) जगत चंद रजवार को गांव में एक अधेड़ की मौत की जानकारी मिली। एडीओ मौके पर पहुंचे तो बताया गया कि अधेड़ को सांस लेने में दिक्कत थी। इस पर एडीओ रजवार ने मौत को कोरोना संदिग्ध मानते हुये परिजनों को कोरोना मेडिसिन किट देकर जानकारी स्वास्थ्य विभाग को दे दी।
उधर, क्षेत्र के पूर्व जिला पंचायत सदस्य धर्म सिंह दसौनी ने बताया कि सेक्टर मजिस्ट्रेट को सिर्फ एक मौत की जानकारी थी, जबकि गांव में उसी रात तीन और मौतें हुयी हैं। दसौनी ने बताया कि उन्होंने इसकी जानकारी अधिकारियों को दी है। इसके बाद सेक्टर मजिस्ट्रेट ने गांव में स्वास्थ्य विभाग की टीम भेजने की बात कही है। दसौनी ने बताया कि गुरुवार को उन्हें गांव के लिये टीम के निकलने की सूचना मिली, लेकिन शाम तक टीम नहीं पहुंची थी। बताया जा रहा है कि टीम जंगल के रास्ते से आ रही है। दसौनी ने गांव में सभी लोगों की सैंपलिंग, दवा वितरण और कैंप लगाकर इलाज की जरूरत जतायी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!