चारधाम यात्रा शुरू, नहीं खुला विराजकुंज के शौचालय का ताला

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

 

चमोली। बदरीनाथ हाईवे पर चार धाम यात्रा के पड़ावों में शामिल बिराजकुंज में सुविधा हेतु शौचालय का निर्माण तो कराया गया, लेकिन सिस्टम की लापरवाही के चलते शौचालय का ताला नहीं खुल पाया। हालांकि पिछले दो सालों से कोविड में लोगों और यात्रियों का ध्यान इस ओर नहीं गया। लेकिन इस बार यात्रा के विधिवत संचालन के बाद बिराजकुंज के व्यापारियों ने शौचालय के संचालन की मांग उठाई है। बदरीनाथ हाईवे पर करीब तीन दशक पहने ढाबा संस्ति के तहत बसे बिराजकुंज आज के स्थायी पड़ाव के रूप में स्थापित हो चुका है। स्थानीय व्यापारी देवी पंत, संजय सती आदि का कहना है कि घने पेड़ों की छांव और पास में बहते गदेरे से यहां भारी संख्या में श्रद्घालु अल्प विश्राम के लिए रूकते हैं। ग्रामीणों की मांग पर श्रद्घालुओं के लिए यहां पर्यटन विकास परिषद द्वारा शौचालय का निर्माण किया गया। जिसमें शौचालय, स्नानागार एवं यूरेनल का निर्माण किया गया। लेकिन यात्रा शुरू होने बावजूद यहां शौचालय का ताला नहीं खुल पाया है। दूसरी ओर एसडीएम संतोष कुमार पांडेय ने बताया कि मामला संज्ञान में आते ही संबधित क्षेत्र के राजस्व उपनिरीक्षक सहित अन्य अधिकारियों को कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!