उत्तराखंड में 29 हजार के पार कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा, 995 नए मामले आए सामने

Spread the love

देहरादून। उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण के मामले दिन-ब-दिन बढ़ते ही जा रहे हैं। शुक्रवार को भी 995 नए मामले सामने आए हैं, जिनमें सबसे अधिक 281 देहरादून से हैं। इसके अलावा 271 ऊधमसिहं नगर, 161 हरिद्वार, 110 नैनीताल, 43 पौड़ी गढ़वाल, 39 पिथौरागढ़, 29 टिहरी गढ़वाल, 17 उत्तरकाशी, 14 अल्मोड़ा, 10 चंपावत, आठ चमोली, सात बागेश्व और पांच रुद्रप्रयाग से हैं। वहीं, 645 ठीक हुए हैं, जबकि 11 की मौत हुई है। प्रदेश में अब संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 29221 हो गई है। इनमें से 19428 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं, जबकि 388 की मौत हो चुकी है। वर्तमान में 9294 मामले एक्टिव हैं। इसके अलावा 111 मरीज राज्य से बाहर जा चुके हैं।
दून मेडिकल कलेज अस्पताल में कोरोना संक्रमित एक ढाई साल के बच्चे की मौत हो गई है। बच्चे को कोटद्वार अस्पताल से दून रेफर किया गया था। देर रात अस्पताल में वेंटिलेटर पर बच्चे की मौत हो गई। गाइडलाइन के मुताबिक पुलिस प्रशासन और अस्पताल कर्मचारियों ने उसको शव को सुपुर्द ए खाक करवा दिया है। डिप्टी एमएस ड एनएस खत्री ने बताया कि बच्चे के मल्टी अर्गन फैलियर होने की वजह से उसकी मौत हो गई। अस्पताल में जब बच्चे को लाया गया तो उसकी हालत बेहद नाजुक थी। सांस लेने में उसे कठिनाई हो रही थी। वहीं, केदारनाथ के शीतकालीन गति स्थल ओंकारेश्वर मंदिर ऊखीमठ में एक कर्मचारी कोराना संक्रमित पाया गया है, जिसके बाद कार्यालय को एक सप्ताह के लिए बंद कर दिया गया है।
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत को दून अस्पताल में भर्ती किया गया है। बता दें कि आठ सितंबर उन्घ्हें अस्पताल से डिस्चार्ज को किया गया था। कोरोना की पुष्टि होने के बाद वह 10 दिन तक अस्पताल में भर्ती रहे थे। लो ब्लड प्रेशर, शारीरिक कमजोरी के कारण फिर से आज उन्घ्हें अस्पताल में भर्ती किया गया।
झबरेड़ा से भाजपा विधायक देशराज कर्णवाल, उनका गनर, ड्राइवर और भतीजी कोरोना पजिटिव पाए गए हैं। उनकी रिपोर्ट कल ही आई है। उन्होंने खुद को रुड़की स्थित आवास पर आइसोलेट कर लिया है। उनके परिवार से चार और लोगों की कोरोना जांच रिपोर्ट आनी है। विधायक को 5 दिन पहले बुखार आया था। इसके बाद उन्होंने अपना कोरोना टेस्ट कराया था।
कोरोना संक्रमण के लिहाज से उत्तराखंड में स्थिति दिन-ब-दिन भयावह होती जा रही है। प्रदेश में लगातार दूसरे दिन भी कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा एक हजार से अधिक रहा है। गुरुवार को भी 1015 मरीजों में कोरोना की पुष्टि हुई है। पिछले दस दिन में ही प्रदेश में कोरोना के 8399 नए मामले आ चुके हैं।
यही नहीं, राज्य में संक्रमण दर छह फीसद से अधिक (6़02 फीसद) हो चुकी है। यह पिछले छह माह में सर्वाधिक है। अब तक 28226 लोग संक्रमित हो चुके हैं। हालांकि, इनमें से 18783 स्वस्थ हो चुके हैं। वर्तमान में 8952 सक्रिय मामले हैं। 111 मरीज राज्य से बाहर जा चुके हैं। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक चौबीस घंटे के अंतराल में 10387 सैंपल की रिपोर्ट प्राप्त हुई है।
रिकवरी की चाल पड़ी मंद
कोरोना की रफ्तार के आगे रिकवरी की चाल भी मंद पड़ गई है। फिलहाल यह 66़55 फीसद है। चिंता का विषय यह कि रोजाना जितने मरीज ठीक हो रहे हैं, उससे से लगभग दोगुने नए मरीज सामने आ रहे हैं। बहरहाल, इस बीच, 521 मरीज स्वस्थ होकर विभिन्न अस्पतालों व कोविड-केयर सेंटर से डिस्चार्ज हो गए। इनमें 253 ऊधमसिंह नगर, 131 टिहरी, 51 नैनीताल, 35 पिथौरागढ़, 30 पौड़ी, 14 चमोली और सात चंपावत से हैं। कई दिन बाद ऐसा हुआ है कि देहरादून व हरिद्वार से एक भी मरीज डिस्चार्ज नहीं किया गया है।
उत्तराखंड में कोरोना संक्रमितों की मौत का आंकड़ा हर दिन बढ़ता जा रहा है। गुरुवार को प्रदेश में कोरोना संक्रमित छह लोगों की मौत हुई है। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के ओएसडी उर्बादत्त भट्ट की पत्नी वर्षा की भी मौत हो गई है। वह श्रीमहंत इन्दिरेश अस्पताल में भर्ती थीं। डक्टरों के अनुसार सीएम के ओएसडी की पत्नी की कोरोना संक्रमण के साथ ही निमोनिया की वजह से हालात काफी ज्यादा बिगड़ गई थी। उनके पति उर्बादत्त भट्ट, उनकी बेटी और साली भी कोरोना पजिटिव पाए गए हैं।
इन सभी का श्रीमहंत इन्दिरेश अस्पताल में उपचार चल रहा है। वर्षा शिक्षा विभाग में प्रवक्ता थीं और प्रतिनियुक्ति पर संस्त शिक्षा में उप निदेशक के पद पर तैनात थीं। इससे पहले सीएम के तीन और ओएसडी में कोरोना की पुष्टि हो चुकी है। खुद सीएम भी दो बार आइसोलेट रहे हैं। साथ ही, कैबिनेट मंत्रियों सहित भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत व विधायकों में भी कोरोना की पुष्टि हो चुकी है। इनमें कुछ स्वस्थ हो चुके हैं।

दून मेडिकल कॉलेज अस्पताल में कोरोना संक्रमित 2.5 साल के बच्चे की मौत
देहरादून। दून मेडिकल कॉलेज अस्पताल में कोरोना संक्रमित एक ढाई साल के बच्चे की मौत हो गई है। बच्चे को कोटद्वार अस्पताल से दून रेफर किया गया था। देर रात अस्पताल में वेंटिलेटर पर बच्चे की मौत हो गई। गाइडलाइन के मुताबिक पुलिस प्रशासन और अस्पताल कर्मचारियों ने उसको शव को सुपुर्द ए खाक करवा दिया है।
डिप्टी एमएस डॉ एनएस खत्री ने बताया कि बच्चे के मल्टी ऑर्गन फैलियर होने की वजह से उसकी मौत हो गई। अस्पताल में जब बच्चे को लाया गया तो उसकी हालत बेहद नाजुक थी। सांस लेने में उसे कठिनाई हो रही थी। वहीं, केदारनाथ के शीतकालीन गति स्थल ओंकारेश्वर मंदिर ऊखीमठ में एक कर्मचारी कोराना संक्रमित पाया गया है, जिसके बाद कार्यालय को एक सप्ताह के लिए बंद कर दिया गया है।
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत को दून अस्पताल में भर्ती किया गया है। बता दें कि आठ सितंबर उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज को किया गया था। कोरोना की पुष्टि होने के बाद वह 10 दिन तक अस्पताल में भर्ती रहे थे। लो ब्लड प्रेशर, शारीरिक कमजोरी के कारण फिर से आज उन्हें अस्पताल में भर्ती किया गया। उधर झबरेड़ा से भाजपा विधायक देशराज कर्णवाल, उनका गनर, ड्राइवर और भतीजी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। उनकी रिपोर्ट कल ही आई है। उन्होंने खुद को रुड़की स्थित आवास पर आइसोलेट कर लिया है। उनके परिवार से चार और लोगों की कोरोना जांच रिपोर्ट आनी है। विधायक को 5 दिन पहले बुखार आया था। इसके बाद उन्होंने अपना कोरोना टेस्ट कराया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!