21 से 24 अक्टूबर तक उत्तराखण्ड की आधिकारिक यात्रा पर रहेंगेना बार्ड अध्यक्ष डॉ. चिंतला

Spread the love

देहरादून। नाबार्ड के अध्यक्ष डॉ. जी. आर. चिंतला कार्यभार ग्रहण करने के बाद पहली बार उत्तराखण्ड की आधिकारिक यात्रा पर पहुंच रहे हैं। वे 21 से 24 अक्तूबर तक देवभूमि उत्तराखंड की यात्रा पर रहेंगे। इस यात्रा के बारे में जानकारी देते हुए उत्तराखण्ड क्षेत्रीय कार्यालय के मुख्य महाप्रबंधक डॉ. ज्ञानेंद्र मणि ने बताया कि यात्रा के दौरान अध्यक्ष महोदय उत्तराखण्ड के विकास की रूपरेखा तथा उसके लिए आवश्यक ऋण सुविधा हेतु माननीय मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के साथ गहन चर्चा करेगें। साथ ही इस यात्रा के दौरान सभी मंत्रीगण, मुख्य सचिव, विभिन्न विभागों के प्रमुख सचिवों के साथ भी विभिन्न योजनाओं पर विस्तार से चर्चा होगी। यात्रा के पहले दिन उत्तराखंड राज्य के प्रथम एकीकृत आदर्श कृषि ग्राम का शुभारंभ मुख्यमंत्री, कृषि मंत्री, सहकारिता मंत्री के साथ अध्यक्ष द्वारा किया जाएगा तथा नाबार्ड की विभिन्न कृषि एवं ग्रामीण परक योजनाओं को इस मौके पर आदर्श कृषि ग्राम के विकास हेतु साझा किया जाएगा। यात्रा के दौरान पैक्स को बहु उद्देशीय सेवा केंद्र बनाने की नाबार्ड की योजना पर एक विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा. राज्य की 102 पैक्स की पहचान की गई है जिन्हें बहु उद्देशीय सेवा केंद्र के रूप में विकसित किया जाएगा। यह कृषि ऋण के साथ-साथ अन्य गतिविधियों के माध्यम से किसानों के लिए विकास की एक नई राह चुनने में मदद करेंगी। इस अवसर पर डॉ. चिंतला, माननीय सहकारिता मंत्री, सहकारिता सचिव तथा सहाकारिता क्षेत्र से जुड़े सभी वरिष्ठ अधिकारीगण, उत्तराखंड राज्य सहकारी बैंक, जिला सहकारी बैंकों के वरिष्ठ अधिकारियों, पैक्स सदस्यों के साथ बैठक भी करेंगे तथा सहकारी बैंकों हेतु सतत व्यवसाय के अवसरों पर विचार विमर्श करेंगे। अपने उत्तराखण्ड दौरे के अवसर पर अध्यक्ष का राज्य की राज्यपाल से भी मिलने का भी कार्यक्रम है। अध्यक्ष इस दौरान भारतीय रिजर्व बैंक के निदेशक, एसएलबीसी तथा विभिन्न बैंकर्स के साथ भी आपसी सहयोग के मुद्दों पर चर्चा करेंगे। अध्यक्ष चमोली जिले में सहकारी बैंक की शाखा का उद्घाटन भी करेंगे तथा वहाँ ऋण मेले का आयोजन भी किया जाएगा। ऋण मेले में स्वयं सहायता समूह के सदस्यों तथा अन्य कृषकों को ऋण वितरण भी किया जाएगा। चार दिवसीय इस दौरे पर अनेक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा जो राज्य की विकास की धारा को नए आयाम प्रदान करने में मदद करेगी। मुख्य महाप्रंबधक डॉ. ज्ञानेंद्र मणि का मानना है कि अध्यक्ष डा. चिंतला की यात्रा उत्तराखण्ड के विकास में सकारात्मक का संचार करेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!