एक आतंकी भालू को मार गिराया

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

चमोली। जोशीमठ नगर में आतंक का प्रयाय बने भालुओं में से एक को वन विभाग
की टीम ने मंगलवार की देर रात्री साढे बारह बजे सिंहधार मोहल्ले में मार
गिराया। यहां पिछले 24 घंटे से वन विभाग की टीम इस भालू की खोजबीन में
लगी थी। सोमवार को सुबह साढ़े दस बजे एक प्राईवेट स्कूल की बाउंड्री तक
भालू पहुंच गया था। यहां शोर मचने पर वह भागकर सिंहधार मोहल्ले में छिप
गया था। सोमवार दोहपर से ही वन विभाग का गश्ती दल एवं टैं्रकुलाईजेशन टीम
भालू का पीछा कर रही थी। नन्दा देवी नेश्नल पार्क के डीएफओ नंदा बल्लभ
शर्मा ने बताया कि मंगलवार को वन विभाग की टीम को फोन आया कि एक भालू
सिंहधार मुहल्ले के आसपास घूम रहा है। इसके बाद वन विभाग की
टैं्रकुलाईजेशन टीम मौके पर पहुंची बताया कि भालू भेंटीधार तोक के निकट
छिपा हुआ था। टीम ने वहां पहुंचकर सतर्कता से भालू के छिपने के स्थान का
पता लगाया। रात 10 बजे भालू पर टैं्रकुलाईजेशन की दो फायर की। इसके बाद
नीचे की ओर भाग गया। रात 12ण्30 बजे दोबार टैं्रकुलाईजेशन फायर किए गए और
भालू को जाल में फंसाने की कोशिश कीए पर भालू हिंसक हो गया और उसने टीम
पर हमला कर दिया। तब भालू को भगाने के लिए हवाई फायर किए गए। लेकिन उसके
घरों की ओर जाने की वजह से लोगों की सुरक्षा को देखते हुए उसे गोली मारनी
पड़ी। उन्होंने बताया कि गोली मारने के बाद भालू का उपचार किया गया और
उसे बचाने का प्रयास भी किया गया। डीएफओ ने बताया कि मौके पर ही भालू को
ग्ल्यूकोस लगाया गया लेकिन घटनास्थल से लाते समय भालू ने रास्ते मे दम
तोड़ दिया। डीएफओ ने बताया कि बुधवार सुबह साढ़े 11 बजे पशु चिकत्सा
प्रभारी जोशीमठ और पशु चिकित्सा अधिकारी वन विभाग हरिद्वार ने मृत भालू
का पोस्टमार्टम किया। इसके बाद नियमानुसार शव को जला दिया गया है। बताया
कि मृतक मादा भालू लगभग 4 कुंतल वजनी था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!