आशा हेल्थ वर्कर्स यूनियन ने सरकार के खिलाफ किया प्रदर्शन —

Spread the love

पिथौरागढ़। एक्टू से संबद्व आशा हेल्थ वर्कस यूनियन ने सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। कहा कि बिना सुरक्षा और मानदेय के कैसे काम करेंगे। मांग पूरी नहीं होने पर आंदोलन किया जाएगा। सोमवार को जिलाध्यक्ष इंद्रा देऊपा के नेतृत्व में कार्यकत्रियों ने डीएम कार्यालय में एकत्र होकर सरकार के खिलाफ नारे लगाए। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में आशाओं ने स्वास्थ्य विभाग के दिशा निर्देश के अनुसार कार्य निष्ठा से किया। लेकिन अब सरकार ने आदेश जारी करते हुए कोरोना के समय आशाओं को रोज अपने क्षेत्रों में एक्टिव सर्विलांस ड्यूटी कर रोज शाम को रिपोर्ट देने का काम सौंपने का फैसला किया है। जिसमें आशाओं को कोमार्डिट बीमारियां बल्ड प्रेशर, शुगर, दिल की बीमारी, सांस संबंधी रोग, टीबी, एल्कोहलिक लीवर डिजीज, सर्दी, जुकाम, बुखार से ग्रसित रोगियों का नाम व संपूर्ण विवरण, कुपोषित बच्चों का विवरण, डेंगू, मलेरिया, उल्टी, दस्त से ग्रसित मरीजों का विवरण, 65 वर्ष आयु से अधिक नागरिकों का नाम व विवरण, गभर्वती, धात्री स्त्रियों का नाम व विवरण का काम करने का आदेश जारी कर दिया है। डीडीहाट ब्लॉक अध्यक्ष पिंकी कलौनी ने कहा कि बिना मानदेय, सुरक्षा, कर्मचारी का दर्जा पाए आशाएं कैसे काम करेंगी। उन पर संक्रमण का खतरा बना हुआ है। आशाओं के साथ यदि कोई घटना होती है तो उसकी जिम्मेदारी किसकी होगी। कहा बिना सुरक्षा के उन्हें यह कराना खतरे से खाली नहीं है। इसका विरोध करते हैं। समाधान नहीं किया गया तो आंदोलन किया जाएगा। ब्लॉक अध्यक्ष डीडीहाट उर्मिला, निरेश चंद, सीमा नगरकोटी, राजेश्वरी जोशी, उमा कन्याल आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!