कोरोना टीकाकरण केंद्र पर विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल को झेलना पड़ा लोगों का गुस्सा

Spread the love

ऋषिकेश। ऋषिकेश में सोमवार को 18 से 44 वर्ष के आयुवर्ग के लिए टीकाकरण अभियान हंगामे के बीच शुरू हुआ। वैक्सीनेशन का शुभारंभ करने पहुंचे विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल को लोगों का गुस्सा झेलना पड़ा। टीकाकरण में हुई देरी पर लोग भड़क गए। गुस्साए लोगों का कहना था कि टीकाकरण पर नेताओं की राजनीति के चक्कर में लोगों को घंटों वैक्सीनेशन के लिए इंतजार करना पड़ रहा है और मुश्किलें झेलनी पड़ रही हैं। जनप्रतिनिधि टीकाकरण के नाम पर वोट बैंक की राजनीति कर रहे हैं।
सोमवार को देहरादून रोड स्थित राजकीय प्राथमिक विद्यालय-1 में बने वैक्सीनेशन सेंटर में सुबह 8 बजे से ही लोग पहुंचने शुरू हो गए थे। सुबह 9 बजे लंबी कतार लग गई। लेकिन वैक्सीनेशन शुरू नहीं हुआ। बताया गया कि विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल वैक्सीनेशन का शुभारंभ करेंगे। उसके बाद ही टीकाकरण अभियान की शुरुआत हो पाएगी। सुबह लगभग 11रू15 बजे विधानसभा अध्यक्ष वैक्सीनेशन सेंटर पहुंचे। इसी बीच कतार में खड़े लोग भड़क गए। वैक्सीनेशन में देरी पर लाइन में खड़े युवाओं ने विधानसभा अध्यक्ष के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी।
आरोप लगाया कि श्रेय लूटने और वोट बैंक की राजनीति में मशगूल जनप्रतिनिधि को जनता के दुख-दर्द से कोई सरोकार नहीं है। लोग सुबह 8 बजे से खुले आसमान के नीचे लाइन में खड़े हैं। लेकिन जनप्रतिनिधि देरी से पहुंच रहे हैं। विरोध के बीच विस अध्यक्ष ने टीकाकरण अभियान शुरू करवाया। विधानसभा अध्यक्ष जब तक वैक्सीनेशन सेंटर में मौजूद रहे, तब तक नारेबाजी जारी रही। उनके जाने के बाद लोग शांत हुए।
वैक्सीनेशन के समय को लेकर लोगों को कुछ गलतफहमी हुई है। वैक्सीनेशन का कार्य सुबह 9 बजे नहीं 11 बजे आरंभ होना था। देहरादून में भी मुख्यमंत्री ने 11 बजे वैक्सीनेशन का शुभारंभ किया। कुछ लोग राजनीतिक द्वेष के चलते उनके खिलाफ माहौल बनाने का काम कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!