अयोध्या में भव्घ्य राम मंदिर के लिए ट्रस्ट को अब तक मिला 100 करोड़ का दान, चंपत राय बोले- हर व्घ्यक्ति दे सकता है योगदान

Spread the love

नई दिल्ली,एजेंसी। श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट को अब तक 100 करोड़ रुपये का दान मिला है। ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने रविवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि दान को लेकर डाटा अभी मुख्यालयों तक नहीं पहुंचा है, लेकिन कार्यकर्ताओं से रिपोर्ट मिली है कि इस पवित्र कार्य के लिए 100 करोड़ रुपये जुटा लिए गए हैं। अयोध्या में भव्य राम मंदिर निर्माण के लिए ट्रस्ट ने 15 जनवरी से व्यापक जनसंपर्क अभियान शुरू किया है। यह अभियान 27 फरवरी तक चलेगा।
मंदिर निर्माण के लिए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से चंदे के बारे में राय ने कहा, श्इसमें कुछ गलत नहीं है। वह भारतीय हैं और भारत की आत्मा राम हैं। इसलिए हर सक्षम व्यक्ति इस महान कार्य में योगदान दे सकता है। राष्ट्रपति कोविंद ने राम मंदिर निर्माण के लिए 5,00,100 रुपये का दान दिया है।
चंपत राय ने यह भी बताया कि राम मंदिर निर्माण का कार्य प्रारंभ हो गया है। करीब 39 महीने में निर्माण कार्य पूरा होगा। ट्रस्ट का कहना है कि मंदिर का निर्माण भारत की प्राचीन व पारंपरिक निर्माण तकनीक के आधार पर किया जाएगा। इसे इस तरह से बनाया जाएगा, जिससे भूकंप, तूफान और अन्य प्रातिक आपदाओं का यह सामना कर सके।
बलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार ने एक वीडियो मैसेज के जरिये अपने फलोअर्स से राम मंदिर निर्माण के लिए दान देने की अपील की है। उन्होंने ट्वीट किया, श्यह बहुत खुशी की बात है कि अयोध्या में हमारे श्री राम का भव्य मंदिर निर्माण प्रारंभ हो गया है। अब योगदान की हमारी बारी है। मैंने शुरुआत की है। आशा है कि आप सब भी इस अभियान से जुड़ेंगे। जय श्री राम।श्
राम जन्मभूमि पर मंदिर निर्माण के लिए बीते शुक्रवार से ही निधि समर्पण अभियान की शुरुआत हुई है। यह अभियान 27 फरवरी तक चलेगा। रामनगरी के संतों ने भी मंदिर निर्माण के लिए दान देना शुरू कर दिया है। संतों का कहना है कि श्रीराम हमारे प्राण धन हैं और उनके लिए सर्वस्घ्व न्घ्यौछावर है। जन्मभूमि पर जिस मंदिर के लिए शताब्दियों से प्रतीक्षा होती रही, उसकी भव्यता में कोई कसर नहीं रहनी चाहिए। अनुमान लगाया जाता है कि मंदिर निर्माण के लिए अकेले रामनगरी के ही संतों का सहयोग एक करोड़ से ऊपर होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!