बंगाल में अमित शाह बोले- हमारी सरकार बनने के बाद जेल में डाले जाएंगे भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या करने वाले गुंडे

Spread the love

मेदिनीपुर, एजेंसियां। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने गुरुवार को पूर्वी मेदिनीपुर के तामलुक में एक चुनावी जनसभा को संबोधित किया। शाह ने कहा कि हमारे 130 से ज्यादा कार्यकर्ताओं को टीएमसी के गुंडों ने मारा है। मैं सबको बताने आया हूं कि तीन मई को भाजपा की सरकार बनने के बाद, भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या करने वाले एक-एक गुंडे जेल की सलाखों के पीटे होंगे। मौजूदा टीएमसी की सरकार पर हमला बोलते हुए उन्घ्होंने कहा कि ममता बनर्जी के राज में दुर्गा पूजा करने के लिए कोर्ट जाना पड़ता है। एक बार कमल के निशान पर बटन दबाइये दो मई के बाद किसी की ताकत नहीं होगी दुर्गा पूजा को रोकने की़.़
अमित शाह ने कहा कि बंगाल के मटुआरे भाइयों को कभी कोई सहायता नहीं मिली। आप भाजपा की सरकार बना दो, हर मटुआरे के बैंक खाते में, बिना किसी कट मनी के छह हजार रुपये सीधे भेजने का काम हमारी सरकार करेगी। हम हर मटुआरे के बैंक अकाउंट में 6,000 रुपए देंगे। हर किसान के बैंक अकाउंट में चेक के जरिए 18,000 रुपए डालेंगे। पूरे देश के किसानों को 18,000 रुपए मिल गए हैं लेकिन बंगाल के किसानों को ममता बनर्जी 18,000 रुपए मिलने नहीं देती हैं।
केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि घुसपैठिए बंगाल के गरीबों का हक मार रहे हैं, भाजपा सरकार बनने के बाद पूरे बंगाल को हम घुसपैठियों से मुक्त करेंगे। बंगाल में बालू माफिया, पानी टैंकर माफिया, भर्ती घोटाले वाले, गाय तस्करी करने वालों को हम जेल की सलाखों के पीटे डालेंगे। दीदी को भतीजे के अलावा कोई दिखाई नहीं पड़ता है। उनका पूरा ध्यान भतीजे को मुख्यमंत्री बनाने में लगा है जबकि हमारा पूरा ध्यान बंगाल का विकास करने में लगा है।
शाह ने कहा कि जंगलमहल में हम नया ।प्प्डै बनाकर आदिवासी और कुर्मी भाइयों को उपचार की आधुनिक सुविधाएं देंगे। हमने 250 बीपीओ के जरिए यहां के आदिवासी और कुर्मी भाइयों को नौकरी देने का वादा किया है। हर घर मे पांच साल में कम से कम एक रोजगार भाजपा की सरकार देगी। दीदी जहां जहां घूमती हैं वहां लोगों और निर्दोष आदिवासियों को डराती हैं। दीदी आप हमें क्या डराती हो, खेला होबे से हम डर जाएंगे क्या? दीदी आपको मालूम नहीं है, बंगाल का छोटा बच्चा भी फुटबल खेलता है, आपके श्खेला होबेश् से कोई नहीं डरता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!