गौला के किनारे तटबंध बनाने व जल डायवर्जन करने की मांग की

Spread the love

नैनीताल। बिंदुखत्ता क्षेत्र के ग्रामीणों ने गौला नदी से बिंदुखत्ता की ओर हो रहे भू-कटाव को रोकने के लिए तटबंध बनाने और नदी का पानी का जंगल की ओर डायवर्जन करने की मांग की है। ग्रामीणों का कहना है कि यदि समय से सुध नहीं ली गई तो बरसात के सीजन में तमाम क्षेत्र में खतरे की जद में आ सकते हैं। सोमवार को बिन्दुखत्ता क्षेत्र के ग्रामीणों ने स्थानीय तहसील में उप जिलाधिकारी ऋचा सिंह के माध्यम से सीएम को ज्ञापन भेजते हुए कहा है कि 3 दिन पूर्व बारिश के चलते गौला नदी उफान पर आई तो तेज बहाव से बिन्दुखत्ता के इंद्रानगर से लेकर श्रीलंका टापू तक करीब 25 स्थानों पर गांव की तरफ भू-कटाव हो गया है। ऐसे हालातों में बरसात का सीजन उनके लिए और खतरनाक साबित हो सकता है। कहा है कि सरकार को इन स्थानों पर तटबंध का निर्माण करना चाहिए। यदि बरसात से पूर्व यह कार्य नहीं हुआ तो गांव खतरे में आ सकते हैं। इससे पूर्व क्षेत्रीय विधायक और सांसद से गौला के किनारे तटबंध बनाने की मांग कई बार की गई है, लेकिन अब तक कोई कार्यवाही नहीं हुई। उपजिलाधिकारी ऋचा सिंह ने कहा कि वह ग्रामीणों का मांगपत्र को सीएम को भेजने के साथ ही जिलाधिकारी के समक्ष भी प्रस्तुत करेंगी। ज्ञापन में समाजसेवी कुंदन सिंह मेहता, उत्तम सिंह धामी, तारा सिंह, फकीर सिंह पवार, दान सिंह कार्की, दरबान सिंह कोश्यारी, हरीश दानू, बुद्धि बल्लभ जोशी, ललित पांडे, हरीश खेड़ा, देवकीनंदन पलडिया, गिरीश जोशी, महेश पाठक, जगत सिंह साही, भूपेश नैनवाल आदि शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!