कैंसर से जूझ रहे पूर्व मुक्केबाज डिंको सिंह हुए कोरोना वायरस के शिकार

Spread the love

नई दिल्ली, एजेंसी। एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता पूर्व मुक्केबाज डिंको सिंह कोविड-19 की जांच में पॉजिटिव आए हैं, जो पहले ही लीवर कैंसर से जूझ रहे हैं। उनसे जुड़े एक करीबी सूत्र ने पीटीआई को रविवार को यह जानकारी दी।
41 वर्षीय डिंको सिंह को इस महीने के शुरू में रेडिएशन थैरेपी के लिए दिल्ली लाया गया था, लेकिन फिर से पीलिया होने की वजह से उन्हें अपने राज्य मणिपुर भेज दिया गया।
सूत्र ने पीटीआई से कहा कि जब वे दिल्ली से रवाना हुए थे, वे जांच में नेगेटिव थे लेकिन मणिपुर जाने के बाद पॉजिटिव पाए गए।
उन्होंने कहा कि उन्हें वहां अस्पताल में भर्ती कराया गया है, वे पहले ही एक जंग से लड़ रहे थे और अब यह भी। पिछले हफ्ते तक वे दिल्ली में थे, उनकी नर्स पॉजिटिव आई थीं लेकिन वे रवाना होते हुए जांच में नेगेटिव थे।
मार्च में उनकी रेडिएशन थैरेपी होनी थी, लेकिन राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के चलते इसमें विलंब हो गया। अप्रैल के अंतिम हफ्ते में भारतीय मुक्केबाजी महासंघ के इंतजाम के बाद उन्हें एयर एंबुलेंस में दिल्ली लाया गया था।
हालांकि उनकी थैरेपी फिर भी नहीं हो सकी क्योंकि उन्हें पीलिया हो गया और उन्हें फिर 2400 किमी की सड़क यात्रा से एंबुलेंस में मणिपुर ले जाया गया।
सूत्र ने कहा कि शायद उन्हें एंबुलेंस में ही संक्रमण हो गया। मैं नहीं जानता, कुछ भी हो सकता है। मुझे लगता है कि जो भी दिल्ली में उनके संपर्क में आए थे, उन्हें भी क्वारंटाइन में रहना होगा और कोविड-19 जांच करानी होगी। सिंह का 2017 से ही लीवर कैंसर के लिए उपचार चल रहा है।
पूर्व बैंथमवेट मुक्केबाज ने बैंकॉक में 1998 एशियाई खेलों का स्वर्ण पदक जीता था। उन्हें 1998 में अर्जुन पुरस्कार और 2013 में पद्मश्री से नवाजा गया था।
6 बार की विश्व चैम्पियन एमसी मेरीकॉम के प्रेरणास्रोत रहे सिंह भारतीय नौसेना में कार्यरत हैं और वे कोच के तौर पर भी काम करते थे लेकिन बीमारी के कारण उन्हें घर पर रहने पर मजबूर होना पड़ा।
मणिपुर में अब तक 71 कोविड-19 मामले सामने आए हैं जिसमें से 11 इससे ठीक हो चुके हैं। अभी तक राज्य में इस महामारी से किसी की मौत नहीं हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!