सीडीओ ने किया कार्यालय का निरीक्षण, अनुपस्थित मिले सहायक प्रबन्धक उद्योग विभाग, सहायक कृषि निरीक्षक 

Spread the love
जयन्त प्रतिनिधि।
पौड़ी। मुख्य विकास अधिकारी पौड़ी गढ़वाल आशीष भटगांई ने विकास भवन स्थित विभिन्न विभागों के कार्यालयों का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान उद्योग विभाग में सहायक प्रबन्धक माधो सिंह रावत, मुख्य कृषि अधिकारी कार्यालय में सहायक कृषि निरीक्षक वर्ग-2 मोहन सिंह भंडारी के अनुपस्थित पाये जाने पर महाप्रबन्धक जिला उद्योग केन्द्र कोटद्वार को तथा मुख्य कृषि अधिकारी को अग्रिम आदेशों तक संबंधित कार्मिकों का माह अगस्त 2020 का वेतन आहरित न करने के आदेश दिये।
सीडीओ ने जिला विकास कार्यालय, ग्रामीण निर्माण विभाग, जिला प्रोबेशन कार्यालय, उरेडा, सहकारिता, उद्योग, मुख्य कृषि अधिकारी, जिला उद्यान अधिकारी, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी, जिला पंचायतराज अधिकारी, पंचास्थानि चुनावालय/मत्स्य/युवा कल्याण, जिला ग्राम्य विकास अभिकरण/स्वजल, जिला कार्यक्रम अधिकारी/समाज कल्याण कार्यालय का निरीक्षण किया गया। उन्होंने ग्रामीण निर्माण विभाग में अधिशासी अभियन्ता ग्रामीण निर्माण विभाग के अनुपस्थित पाये जाने पर वस्तुस्थिति स्पष्ट करने के तथा जिला प्रोबेशन, उरेडा, सहकारिता, जिला उद्यान अधिकारी, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी, पंचास्थानि चुनावालय/मत्स्य/युवा कल्याण, जिला ग्राम्य विकास अभिकरण/स्वजल आदि कार्यालयों में अभिलेखों को व्यवस्थित ढंग से रखने, पुराने अभिलेखों का नियमानुसार निस्तारण करने, कार्मिकों के कक्षों में नेमप्लेट लगाने व कार्य विभाजन चस्पा करने के निर्देश दिये गये। जिला समाज कल्याण अधिकारी कार्यालय में अधिक मात्रा में अभिलेख होने के कारण स्थान की कमी को देखते हुए हुए अभिलेखों को अन्यत्र रखने की व्यवस्था करने के निर्देश भी दिये गये। उन्होंने विकास भवन स्थित सभी कार्यालयों में सुरक्षा की दृष्टि से स्थापित अग्निशमन यंत्रों की रिफिलिंग/अपडेट करवाने के निर्देश दिये।
कार्यालयों में सफाई का विशेष ध्यान रखने को कहा
मुख्य विकास अधिकारी पौड़ी गढ़वाल आशीष भटगांई ने कार्यालयों में साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखने, कोविड-19 के दृष्टिगत हैंडसैनेटाइजर की व्यवस्था करने, इन्दिरा अम्मा कैन्टीन में साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखने तथा प्रत्येक कार्मिक द्वारा मास्क का प्रयोग करने हेतु निर्देशित किया गया। इसके बाद मुख्य विकास अधिकारी ने वीसी के माध्यम से खंड विकास अधिकारियों की सहवर्गीय बैठक ली। बैठक में उन्होंने एनआरएलएम तथा मनरेगा कार्यक्रमों की समीक्षा करते हुए संबंधित अधिकारियों से जानकारी ली तथा आवश्यक दिशा-निर्देश दिये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!