कांग्रेस ने निकाली जनाक्रोश रैली

Spread the love

उत्तरकाशी। जिला मुख्यालय में पूर्व विधायक विजयपाल सजवाण के आह्वान पर जिला कांग्रेस कमेटी के बैनर तले जनाक्रोश रैली निकाली गई। कलक्ट्रेट पहुंचकर रैली धरने के रूप में परिवर्तित हो गई। इस दौरान शासन-प्रशासन के खिलाफ कांग्रेसियों ने जमकर नारेबाजी की। जिलाधिकारी मयूर दीक्षित के पहुंचने तक पूर्व विधायक समेत कार्यकत्र्ता धरने पर भी बैठे। गंगोत्री विधानसभा क्षेत्र की समस्याओं को लेकर पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार आजाद मैदान से कांग्रेस की जनाक्रोश रैली शुरू हुई। भटवाड़ी रोड होते हुए रैली कलक्ट्रेट पहुंची। इस दौरान हाईवे पर आधे घंटे का जाम भी लगा रहा। कलक्ट्रेट परिसर में सभा को संबोधित करते हुए पूर्व विधायक विजयपाल सजवाण ने कहा कि डबल इंजन की सरकार को चार वर्ष बीत गए, लेकिन गंगोत्री विधानसभा में एक भी घोषणा और विकास कार्य नहीं हुए। सरकार शहर के बीच तांबाखानी में पड़े कूड़े के निस्तारण के लिए जगह उपलब्ध कराने में भी असफल रही। जिले में संचार सेवा बदहाल है और डबल इंजन की सरकार संचार क्रांति के दावे पीट रही है। पूर्व विधायक विजयपाल सजवाण ने कहा कि पिछले विधानसभा चुनावों में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने उत्तरकाशी के आजाद मैदान में छह माह के अंतराल में बंद पड़ी जलविद्युत परियोजनाओं पर छह माह में काम शुरू होने की घोषणा की थी। लेकिन, इस दिशा में कोई काम नहीं हुआ। इस दौरान कांग्रेस के जिलाध्यक्ष जगमोहन सिंह रावत ने कहा कि कृषि ऋण माफी , युवाओं को रोजगार, बंद पड़े इंजीनियरिग कॉलेज, पॉलीटेक्निक, आईटीआई संस्थान, भटवाड़ी का तहसील भवन निर्माण न होने को लेकर जनता में भारी आक्रोश है। गंगोत्री विधानसभा की जन समस्याओं का पत्र कांग्रेसियों ने जिलाधिकारी के माध्यम से राज्यपाल को प्रेषित किया। इसके बाद रैली कलक्ट्रेट से मुख्य बाजार होते हुए हनुमान चौक पहुंची। यहां 2022 के विधानसभा चुनाव की भावी रणनीति तैयार की गई। इस अवसर पर नगरपालिका अध्यक्ष रमेश सेमवाल, शहर कांग्रेस अध्यक्ष दिनेश गौड़, ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष भटवाड़ी कमल सिंह रावत, डुंडा ब्लॉक अध्यक्ष दिनेश चौहान, पूर्व प्रमुख कनकपाल परमार, मनोज मिनान, गिरवीर परमार आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!