कोरोना से शिक्षण संस्घ्थानों पर फिर तालाबंदी का खतरा, कई राज्यों में स्कूल-कलेज बंद, परीक्षाएं टलीं

Spread the love

नई दिल्ली, एजेंसी। कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते महाराष्ट्र समेत देश के कई हिस्सों में कहीं सीमित लकडाउन, तो कहीं रात का कर्फ्यू लगाने जैसे सख्त बंदोबस्घ्त किए गए हैं। लंबे समय बाद खुले स्कूल फिर से बंद होने लगे हैं। गुजरात, पंजाब और महाराष्ट्र के कई इलाकों में स्कूल-कलेजों को फिर से बंद करना पड़ा है। पंजाब में बोर्ड परीक्षाओं को एक महीने के लिए टाल दिया गया है। हालांकि, देश के कई हिस्सों में स्कूल खुले हैं। महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण एक बार फिर डराने लगा है। राज्य सरकार ने 31 मार्च तक सभी ड्रामा थिएटरों और अडिटोरियम को 50 फीसद क्षमता के साथ चलाने के निर्देश दिए हैं। इनमें बिना मास्क के प्रवेश की अनुमति नहीं होगी। सभी प्राइवेट अफिस 50 फीसद क्षमता के साथ काम करेंगे। पुणे में स्कूल-कलेजों को 31 मार्च तक बंद रखने का निर्देश जारी किया गया है।
महाराष्ट्र के पालघर जिले में भी सभी सरकारी स्कूल, कलेज, हस्टल और निजी स्कूल अगले आदेश तक बंद कर दिया गया है। बीते दिनों नंदौर में एक आवासीय विद्यालय (आश्रम शाला) के छात्रों और एक शिक्षक सहित 30 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए जिसके बाद छात्रावास को सील कर दिया गया था। मुंबई में सभी शिक्षकों को अनलाइन पढ़ाने के लिए कहा गया है।
गुजरात के अहमदाबाद, सूरत, राजकोट, वडोदरा, जामनगर, भावनगर गांधीनगर सहित आठ महानगर पालिकाओं में स्कूल कलेज 10 अप्रैल तक बंद रखने के निर्देश दिए गए हैं। राज्घ्य में कोरोना के बढ़ने मामलों की वजह से यह फैसला लिया गया है। राज्घ्य सरकार ने अहमदाबाद, सूरत, वडोदरा तथा राजकोट में कर्फ्यू की अवधि बढ़ाकर रात को 10रू00 बजे से सुबह 6रू00 बजे तक का कर दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!