गैरसैंण लाठीचार्ज की निंदा कर कांग्रेस ने सीएम का पुतला जलाया

Spread the love

पिथौरागढ़। कांग्रेस ने गैरसैंण में आंदोलनकारियों पर हुए लाठीचार्ज की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए सीएम का पुतला जलाया। कार्यकर्ताओं ने कहा प्रदेश सरकार तानाशाही पर उतर आई है। गैरसैंण में शांतिपूर्ण तरीके से आदोलन कर रहे लोगों पर लाठियां बरसाकर सरकार ने अपनी पोल खोलने का काम किया है। कहा प्रदेश के लोगों पर अत्याचार किसी भी कीमत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। गुरुवार को कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने पूर्व प्रदेश सचिव प्रदीप पाल के नेतृत्व में सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए सीएम का पुतला जलाया। उन्होंने कहा अपनी आवाज बुलदं करने का हक हर व्यक्ति को है। संविधान भी उसे इसकी इजाजत देता है। लेकिन प्रदेश सरकार अपने को संविधान से ऊपर समझने लगी है। गैरसैंण में शांतिपूर्ण तरीके से आंदोलन कर रहे लोगों पर सरकार का लाठी बरसाना इसका प्रमाण है। प्रदेश सरकार तानाशाही पर उतर गई है। लगता है कि भाजपा सरकार ने लोगों की बात न सुनने की कसम खाई है। कार्यकर्ताओं ने कहा आंदोलनकारियों पर लाठीचार्ज करना गलत है। सरकार को उनसे माफी मांगनी चाहिए। इस दौरान कार्यकर्ताओं ने सरकार के खिलाफ जमकर नारे लगाए। चेतावनी देते हुए कहा लाठीचार्ज करने वालों पर कार्रवाई नहीं हुई तो उग्र आंदोलन होगा।
धारचूला में महिला कांग्रेस ने जलाया सीएम का पुतला
पिथौरागढ़। गैरसैंण में हुए लाठीचार्ज की घटना पर महिला कांग्रेस ने कड़ी आपत्ति जताई है। कार्यकर्ताओं ने सरकार पर उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए सीएम से इस्तीफे की मांग की है। गुरुवार को कांग्रेस महिला ब्लॉक अध्यक्ष लक्ष्मी रायपा के नेतृत्व में कार्यकर्ता गांधी चौक में एकत्र हुए। इस दौरान उन्होंने प्रदेश सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन किया और सीएम त्रिवेंद्र रावत का पुतला जलाया। महिला ब्लॉक अध्यक्ष लक्ष्मी ने कहा गैरसैण में हुई घटना शर्मशार करने वाली है। कहा सरकार ने गैरसैंण में शांतिपूर्ण आंदोलन को लाठी के बल पर कुचलने का काम किया है। महिला जिलाध्यक्ष नंदा बिष्ट ने कहा भाजपा सरकार को आमजन के हितों से कोई सरोकार नहीं है। कहा जनता ने अपनी पीड़ा सुनाने का प्रयास किया तो लाठीचार्ज करा दिया। कार्यकर्ताओं ने कहा सरकार तनाशाही पर उतर आई है। इसे पार्टी बिल्कुल बर्दाश्त नहीं करेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!