उत्तराखंड में जल्द शुरू होगी ग्रेन एटीएम प्रणाली, अब एटीएम से मिलेगा अनाज

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

देहरादून। प्रदेश सरकार विश्व खाद्य कार्यक्रम की पायलट योजना के तहत जल्द ही राज्य में ग्रेन एटीएम प्रणाली को शुरू करने जा रही है। खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामलों की मंत्री रेखा आर्य का कहना है कि अगर केंद्र सरकार की ओर से जल्द ही एटीएम मिल जाते हैं, तो जुलाई के प्रथम सप्ताह से पहले चरण में एक मैदानी और एक पहाड़ी जनपद में इसका प्रयोग किया जाएगा। अगर यह प्रयोग सफल होता है तो ग्रेन एटीएम प्रणाली को पूरे प्रदेश में लागू किया जाएगा। जिस तरह बैंकों के एटीएम से आप अपनी जरूरत के वक्त पैसा निकालते हैं, ठीक उसी तरह से अब आप उत्तराखंड में अनाज भी ले सकेंगे। विश्व खाद्य कार्यक्रम के खास योजना के तहत उत्तराखंड में फूड ग्रेन एटीएम शुरू होने जा रहा है। राज्य का पहला अनाज एटीएम देहरादून में धर्मपुर क्षेत्र में लगाया जाएगा। खाद्य सचिव सचिन कुर्वे ने इसकी पुष्टि की। उन्होंने बताया कि विश्व खाद्य कार्यक्रम के तहत इस संबंध में मंजूरी मिल चुकी है।
बता दें, ग्रेन एटीएम प्रणाली अभी उड़ीसा और हरियाणा में चल रही है। अगर उत्तराखंड में इसका प्रयोग सफल हो जाता है, तो उत्तराखंड इस प्रणाली के प्रयोग में तीसरे नंबर का राज्य बन जायेगा। खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामलों की मंत्री रेखा आर्य ने बताया कि पायलट प्रोजेक्ट के तहत खाद्य विभाग की ओर से उत्तराखंड में भी ग्रेन एटीएम की शुरुआत की जा रही है। इसके लिए केंद्र सरकार की ओर से अनुमति मिल गई है। जल्द ही इसके लिए मशीनें भी राज्य सरकार को उपलब्ध हो जाएंगी़रेखा आर्य ने बताया कि जिस प्रकार से एटीएम के माध्यम से कोई भी व्यक्ति कहीं भी अपनी धनराशि निकाल सकता है, अब इसी तर्ज पर आम व्यक्ति को राशन की सुविधा उपलब्ध करवाई जाएगी। एटीएम के माध्यम से प्रदेश का कोई भी राशन कार्ड धारक कहीं पर भी अपना राशन निकाल सकता है। रेखा आर्य ने बताया कि अभी इस योजना के तहत ग्रेन एटीएम मशीन मिलने में एक माह का समय लग सकता है। इसलिए उत्तराखंड सरकार का प्रयास है कि जुलाई माह के प्रथम सप्ताह में एक मैदानी और एक पहाड़ी जनपद में प्रयोग के तौर पर इसे शुरू किया जाएगा़
आर्य ने कहा कि इससे आम व्यक्ति सरकारी राशन के लाभ से पलायन के कारण भी वंचित नहीं हो पायेगा। वह प्रदेश के किसी भी कोने में अपना राशन ले पायेगा। इस एटीएम मशीन में भी अंगूठे के निशान के साथ ही राशन उपलब्ध हो जाएगा और एटीएम स्क्रीन पर राशन कार्ड धारक की पूरी जानकारी होगी़ऐसे काम करेगी मशीनरू यह सिस्टम एटीएम मशीन की तरह होगा। इस पर भी एटीएम मशीन की तरह स्क्रीन होगी। यह मशीन बड़े आकार के भंडार ड्रमों से जुड़ी रहेगी। राशन कार्ड धारक यहां आकर एक तय स्थान पर अपना अंगूठा लगाएगा। अंगूठा स्कैन होते ही स्क्रीन पर कार्ड धारक का पूरा विवरण आ जाएगा। इसके बाद मशीन में अनाज का मूल्य नकद रूप में डाल कर या फिर अनलाइन जमा कराना होगा। फिर मशीन में बने एक टेद पर अपना झोला लगाना होगा। एक तय समय में मशीन कार्ड धारक को उसके लिए तय अनाज दे देगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!