हरिद्वार में अस्थाई जेल से शूटर सहित आठ कैदी हुए फरार, चार दबोचे

Spread the love

हरिद्वार। प्रपर्टी डीलर से एक करोड़ की रंगदारी मांगने में गिरफ्तार हुए कलीम और प्रवीण वाल्मीकि गैंग के शूटर सहित आठ कैदी जिला मुख्यालय की अस्थाई जेल से फरार हो गए। कैदियों ने मंगलवार की सुबह कुंडी तोड़ी और दीवार फांदकर भाग निकले। जिले भर में सड़क से लेकर राजाजी टाइगर रिजर्व के जंगल तक कैदियों की तलाश में सर्च अपरेशन चलाया गया। दोपहर बाद चार कैदी पकड़ में आ गए। बाकी चार की तलाश जारी है।
कोर्ट से जेल भेजे जाने वाले कैदियों को कोविड 19 गाइडलाइन के तहत करीब एक सप्ताह अस्थाई जेल में रखा जाता है। हरिद्वार में रोशनाबाद स्थित राजकीय भिक्षुक गृह को अस्थाई जेल में तब्दील किया गया है। अस्थाई जेल में 71 विचाराधीन कैदी बंद थे। मंगलवार की कैदियों ने नाश्ता किया। करीब आठ बजे अलग-अलग बैरकों से आठ कैदी दीवार फांदकर जंगल के रास्ते भाग निकले। करीब एक घंटे तक जेल का स्टाफ कैदियों की तलाश करता रहा, कुछ सुराग न मिलने पर पुलिस को सूचना दी गई। जिससे पुलिस में हड़कंप मच गया। एसपी क्राइम आयुष अग्रवाल, एसपी सिटी कमलेश उपाध्याय सहित आला अधिकारियों ने अस्थाई जेल पहुंचकर जायजा लिया। कैदियों की पहचान ज्वालापुर के प्रपर्टी डीलर मोनू त्यागी से एक करोड़ की रंगदारी मांगने में गिरफ्तार हुए शूटर शुभम पंवार निवासी गांव बहादुरपुर थाना सेलाकुई देहरादून, रजत और नीशू उर्फ बिजली निवासीगण खड़खड़ी हरिद्वार, निशांत वर्मा उर्फ सुनार निवासी सैनिक कलोनी व सागर चौहान निवासी चाव मंडी रुड़की और मोबाइल छीनने के आरोपित वाजिद निवासी गढ़मीरपुर रानीपुर, बाइक चोरी में पकड़े गए विपुल निवासी मंगलौर व बिट्टू निवासी सहारनपुर के रूप में हुई। वायरलैस पर कैदियों के फरार होने की सूचना फ्लैश होते ही जिले भर की पुलिस चेकिंग में जुट गई। सिडकुल थानाध्यक्ष लखपत बुटोला के नेतृत्व में एक टीम ने जेल से सटे जंगल में कांबिंग की।
शाम तक पसीना बहाने के बाद आखिरकार निशांत और सागर को कलियर से, नीशू को गंगनहर कोतवाली क्षेत्र से और वाजिद को रानीपुर कोतवाली क्षेत्र से पकड़ लिया गया। एसपी सिटी कमलेश उपाध्याय ने बताया कि फरार चार कैदियों की धरपकड़ के लिए पुलिस टीमें लगाई गई हैं। अस्थाई जेल के अधीक्षक जयदेव की ओर से सभी आठ कैदियों के खिलाफ सिडकुल थाने में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।
प्रपर्टी डीलर से एक करोड़ की रंगदारी मांगने में गिरफ्तार हुए कलीम और प्रवीण वाल्मीकि गैंग के शूटर सहित आठ कैदी जिला मुख्यालय की अस्थाई जेल से फरार हो गए। कैदियों ने मंगलवार की सुबह कुंडी तोड़ी और दीवार फांदकर भाग निकले। जिले भर में सड़क से लेकर राजाजी टाइगर रिजर्व के जंगल तक कैदियों की तलाश में सर्च अपरेशन चलाया गया। दोपहर बाद चार कैदी पकड़ में आ गए। बाकी चार की तलाश जारी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!