इंडियन ऑयल ने 5 किलो एफटीएल सिलिंडर को दिया छोटू नाम

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। इंडियन ऑयल ने अपने 5 किलोग्राम एफटीएल सिलिंडर का 11 दिसंबर, 2020 को नामकरण किया और इसे नई दिल्ली में लॉन्च किया । इंडेन का 5 किलोग्राम एफटीएल सिलिंडर अब “छोटू” के नाम से जाना जाएगा। इसी कड़ी में लालपानी इंडेन ग्रामीण एजेन्सी में इसका उदघाटन किया गया। यह सिलिंडर पैन-इंडिया हर एलपीजी वितरक एवं नामित दुकानों (पॉइंट ऑफ सेल) पर उपलब्ध हैं। लालपानी इंडेन ग्रामीण एजेन्सी द्वारा मंगलवार को कुछ ग्राहकों को इसे वितरित भी किया गया।
इंडियन ऑयल के 5 किलो के एफटीएल सिलेंडर को एक ब्रांड की पहचान दी गई है। यह ग्राहकों द्वारा एक बेहतर ब्रांड रिकॉल को सक्षम करेगा, जिसे अब नाम से 5 किलो एफटीएल सिलेंडर के लिए पूछना आसान होगा। यह इंडेन वैरिएंट इंडियन ऑयल द्वारा उन विशिष्ट सेगमेंट की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए लांच किया गया था, जिसमें प्रवासी मजदूर जिनका कोई वर्तमान एड्रेस प्रूफ न हो, युवा पेशेवर के साथ घर और साथ ही खाना पकाने की गैस की आवश्यकता वाले छोटे व्यावसायिक प्रतिष्ठानों के लिए भी शामिल थे। सिलेंडर प्राप्त करने के लिए ग्राहक को केवल एक आईडी प्रूफ कॉपी जमा करनी होगी। इसके अलावा इन सिलेंडरों को ले जाना और उपयोग करना आसान है। न्यूनतम कागजी कार्रवाई और सिलेंडर की कॉम्पैक्ट और सुरक्षित डिजाइन यह उन सभी ग्राहकों के लिए एक अच्छा विकल्प बनाती है, जिन्हें कम सूचना पर एलपीजी की आवश्यकता होती है। ग्राहक इसे पसंदीदा स्थान जैसे इंडियन ऑयल के रिटेल आउटलेट्स, एलपीजी वितरक एवं स्टोर्स सहित बिक्री के विभिन्न बिंदुओं पर खरीदा सकते है। इस अवसर पर इंडियन ऑयल के अध्यक्ष एसएम वैद्य ने कहा कि “छोटू’’ ने सुविधा को फिर से परिभाषित किया है। बिना किसी कागजी कार्रवाई के आसानी से उपलब्ध, संभालना और ले जाना आसान और फिर से भरना भी आसान। उत्पाद को अब ग्राहकों के बीच बेहतर याद और भरोसेमंद पहचान मिलेगी। कड़े सुरक्षा जांचों के आधार पर छोटू शायद रसोई में आपका सबसे स्मार्ट अधिग्रहण है। इंडियन ऑयल के निदेशक (विपणन) गुरमीत सिंह ने कहा, “छोटू’’ देश में 695 जिलों में व्यापक रूप से उपलब्ध है, जो बेहतर पहुंच के लिए लगातार विस्तार वाले नेटवर्क के माध्यम से उपलब्ध है। व्यापक नेटवर्क हमारे संयंत्रों में संवर्धित बॉटलिंग क्षमताओं द्वारा समर्थित है। वास्तव में निगम ने अपनी स्थापना के बाद से लगभग 52 लाख सिलेंडर बेचे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!