जीवन में गांधी के विचारों को आर्दश के रूप में अपनाने की जरूरत

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार।
राजकीय महाविद्यालय पोखड़ा में आजादी के अमृत महोत्सव कार्यक्रम के अंतर्गत प्रोत्साहन व्याख्यान और निबंध प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि समाज सेवी वीरेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि विभिन्न वर्ण और जाति में समाज बंटा हुआ है, हमें अपने आदर्शों से आज ये सीख लेनी होगी कि प्रत्येक व्यक्ति को गांधी के विचारों को एक आदर्श के रूप में अपने जीवन में उतारने में उतारने की जरूरत है और उस पर यर्थाथ रूप से कार्य करने की आवश्यकता है। 
कार्यक्रम संचालक डॉ. विपिन कुमार तिवारी ने देश के इतिहास पर प्रकाश डाला। महाविद्यालय की प्राचार्या प्रो. प्रीति कुमारी ने स्वतन्त्रता संग्राम के युवा क्रांतिकारियों को याद करते हुए कहा कि जिस प्रकार देश के सैनिक देश की रक्षा पूर्ण निष्ठा के साथ कर रहे हैं उसी प्रकार देश के प्रत्येक नागरिक का ये कर्तव्य है कि वह देश के विकास में पूर्ण निष्ठा से भागीदार बनें। महाविद्यालय में महात्मा गांधी का स्वतंत्रता आंदोलन में योगदान के विभिन्न पक्षों पर अवलोकन विषय पर निबंध प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। निबंध प्रतियोगिता में प्रथम स्थान आसमा, द्वितीय स्थान प्रकृति व तृतीय स्थान किरन ने प्राप्त किया। इस मौके पर सभी विद्यार्थियों व कर्मचारियों ने महाविद्यालय से घिरोलीधार होते हुए पोखड़ा ग्राम सभा व पोखड़ा बैंड तक जन जागरूकता रैली निकाली। रैली को संबोधित करते हुए प्रतियोगिता प्रभारी डॉ. बिपिन कुमार तिवारी ने कहा कि राष्ट्र के महापुरूषों का संदेश व योगदान जन-जन तक पहुंचे, जिससे राष्ट्र की समृद्घि का मार्ग प्रशस्त हो सके। कार्यक्रम में डॉ. अटल बिहारी त्रिपाठी, डॉ. विपिन कुमार तिवारी, डॉ. ब्रहमराज सिंह, अजय कुमार, कुलदीप सिंह, श्रीमती मोनिका रावत, श्रीमती कुसुम देवी, राहुल कुमार, पूर्व ब्लॉक प्रमुख सुरेंद्र सिंह रावत, समाजसेवी पुष्कर जोशी, वीरेंद्र सिंह रावत आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!