कार्मिक विरोधी नीतियों के खिलाफ फूटा गुस्सा

Spread the love

हरिद्वार। पदोन्नति व अन्य मांगों को लेकर चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी संघ चिकित्सा स्वास्थ्य ने सोमवार को काली पट्टी बांधकर काम किया। इस दौरान कर्मचारियों ने सरकार की कार्मिक विरोधी नीतियों के खिलाफ मेला अस्पताल परिसर में प्रदर्शन भी किया। संघ के प्रदेश महामंत्री दिनेश लखेड़ा, संयुक्त मंत्री शिवनारायण और मुख्य संयोजक जीत सिंह ने कहा कि कोविड महामारी में अग्रिम पंक्ति पर कार्य करने के बाद भी कर्मचारियों की कहीं कोई सुनवाई नहीं हो रही है। जो अन्यायपूर्ण है। पदोन्नति तक कर्मचारी किसी भी तरह पीछे नहीं हटेंगे। उप शाखा अध्यक्ष छत्रपाल, राकेश भंवर और आशुतोष गैरोला ने कहा कि कर्मचारियों का उत्पीड़न किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इन्होंने आयुर्वेद, एलोपैथ, होम्योपैथ के कर्मचारियों की पदोन्नति, जोखिम भत्ता, एक माह का मानदेय, पशुपालन विभाग की तर्ज पर वैक्सीनेटर पद पर हाईस्कूल, इंटरमीडिएट कर्मचारियों की पदोन्नति करने की मांग की। इसके अलावा लैब सहायक, डार्क रूम सहायक आदि के रिक्त पदों पर पदोन्नति की भी मांग की। विरोध प्रदर्शन करने वालों में शिवनारायण सिंह, महेश कुमार, राकेश भंवर, छत्रपाल, सचिन, सुरेशचंद, धर्म सिंह, गुलशन, रजनी अजय रानी आदि शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!