किसानों को नहीं मिल रहा पीएम किसान सम्मान निधि योजना का लाभ

Spread the love

अधिकारी की लापरवाही, छ: माह से फार्म पर नहीं हुए हस्ताक्षर
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। कृषि विभाग की अधिकारियों की लापरवाही के कारण नगर निगम कोटद्वार के वार्ड नंबर 37 पश्चिमी झंडीचौड़ के
किसानों को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि का लाभ नहीं मिल पा रहा है। कृषि विभाग केन्द्र सरकार की प्रधानमंत्री
किसान सम्मान निधि योजना पर पलीता लगाने में कोई कसर नहीं छोड़ रहा है। पार्षद सुखपाल शाह ने आरोप लगाते
हुए कहा कि कृषि विभाग के लक्ष्मपुर न्याय पंचायत प्रभारी पिछले छ: माह से अधिक समय से किसानों के फार्मों पर
हस्ताक्षर नहीं कर रहे है। जिस कारण किसानों को योजना का लाभ नहीं मिल पा रहा है। उन्होंने कहा कि कृषि विभाग
के अधिकारियों की लापरवाही का खामियाजा किसानों को भुगतना पड़ रहा है। पार्षद ने कहा कि ऐसे लापरवाह
अधिकारियों के खिलाफ कार्यवाही की जानी चाहिए।
वार्ड नंबर 37 पश्चिमी झंडीचौड में सोमवार को किसानों की बैठक आयोजित की गई। बैठक में पार्षद सुखपाल
शाह ने किसानों को बताया कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के तहत किसानों के खाते में प्रतिवर्ष 6000 रूपये आते
है। इसमें लगभग 8 से 10 माह पूर्व किसानों के फार्म भरे गए थे और जिसमें स्थानीय पट्टी पटवारी ने अपनी पूरी
रिपोर्ट जांच कर तहसील में जमा कर दिए थे जो सभी कृषक पात्र पाए गए थे, लेकिन अभी तक कृषि विभाग के
लक्ष्मपुर न्याय पंचायत प्रभारी ने इन फार्मों में हस्ताक्षर नहीं किए। लगभग 6 महीने से ज्यादा समय से न्याय पंचायत
प्रभारी इन किसानों के फार्मों में हस्ताक्षर नहीं कर रहे हैं। कई बार किसानों ने प्रभारी से अपनी किसान निधि के संबंध
में पूछताछ की, लेकिन हर वक्त अपने आप को बिजी बताते हुए किसानों का कार्य नहीं कर रहे है। जहां प्रधानमंत्री
किसानों के लिए पीएम किसान सम्मान निधि आदि अनेक योजना ला रहे हैं, वहीं न्याय पंचायत प्रभारी किसानों को
योजना का लाभ नहीं दिला रहे है। जिससे किसानों में प्रभारी के प्रति रोष पनप रहे हैं। पार्षदों ने कहा कि किसानों ने
लापरवाह अधिकारियों के खिलाफ कार्यवाही करने की मांग को लेकर जिलाधिकारी पौड़ी गढ़वाल, जिला कृषि अधिकारी
पौड़ी गढ़वाल, उप जिलाधिकारी कोटद्वार को पूर्व में शिकायती पत्र भेजा था, लेकिन अभी तक कोई कार्यवाही नहीं हो पाई
है।
पार्षद सुखपाल शाह ने कहा कि अन्य राज्यों में टिडियों का दल फसलों को काफी नुकसान पहुुंचा रहा है। हमें
सर्तक होने की आवश्यकता है। कीटनाशक दवाइयों की स्प्रे मशीन किसान तैयार रखें, कभी भी टिडियों का दल क्षेत्र में
आ सकता है। इस अवसर पर कृषक हरि सिंह रावत, लव किशोर शर्मा, महेश चंद, चंद्रमोहन, महेंद्र सिंह, प्रेमचंद, कुंवारा
देवी, अशोक कुमार, राम सिंह, शकुंतला देवी, सुरेश चंद, भीम सिंह, नयन सिंह, राजेंद्र सिंह, जसपाल सिंह, पूर्व प्रधान
पुष्पा देवी, श्यामलाल, धीरेंद्र सिंह, बच्चन सिंह, यशवंत सिंह, बबीता देवी आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!