कोटद्वार-दुगड्डा के बीच नदी में समाया एनएच, गढ़वाल से कटा कोटद्वार का संपर्क

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। राष्ट्रीय राजमार्ग 534 नजीबाबाद-बुआखाल पर कोटद्वार और दुगड्डा के बीच चूनाधारा के समीप सड़क पूरी तरह से टूटकर खोह नदी में समा गई है। जिससे वाहनों की आवाजाही ठप हो गई। सड़क टूटने से कोटद्वार का गढ़वाल से संपर्क भी पूरी तरह से कट गया है। हालांकि राष्ट्रीय राजमार्ग विभाग के कर्मचारियों ने सड़क बनाने का काम शुरू कर दिया है।
ज्ञात हो कि विगत 21 जुलाई को नेशनल हाईवे 534 पर कोटद्वार-दुगड्डा के बीच चूनाधारा के पास सड़क क्षतिग्रस्त हो गई थी। हालांकि कुछ घंटों बाद ही राष्ट्रीय राजमार्ग विभाग ने मार्ग को यातायात के लिए खोल दिया था, लेकिन भारी वाहनों के कारण शुक्रवार सांय को करीब 5 बजे चूनाधार के समीप सड़क पूरी तरह से टूट गई। एनएच बंद होने के कारण कोटद्वार-पौड़ी हाईवे पर मार्ग के दोनों ओर वाहनों की लंबी कतारें लगी गई। इस दौरान देर शाम तक लोग जाम में फंसे रहे। जिस कारण लोगों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ा। एनएच बंद होने से कोटद्वार का गढ़वाल से सम्पर्क पूरी तरह से कट गया है। यह राष्ट्रीय राजमार्ग गढ़वाल को कोटद्वार से जोड़ने का एकमात्र मार्ग है। इस मार्ग से प्रतिदिन हजारों लोग अपने गतंव्यों की ओर जाते है। बरसात के समय इस मार्ग पर पहाड़ी से बोल्डर आते रहते है। बरसात के समय अक्सर इस मार्ग पर बोल्डर आने से आवाजाही ठप हो जाती है। पौड़ी गढ़वाल के अधिकांश क्षेत्र में कोटद्वार से ही राशन, सब्जी सहित अन्य जरूरी सामान की आपूर्ति होती है, लेकिन मार्ग बंद होने से गढ़वाल से कोटद्वार संपर्क कट गया है। ऐसे में अगर जल्द ही मार्ग को यातायात के लिए नहीं खोला गया तो गढ़वाल में जरूरी सामान की किल्लत हो सकती है। उधर, अरविंद जोशी अपर सहायक अभियंता एनएच खंड धुमाकोट ने बताया कि बताया कि चूना धारा के समीप टूटी सड़क पर पुश्ता निर्माण का कार्य शुरू कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि मार्ग को खोलने में कम से कम पांच घंटे का समय लगेगा। आमसौड़ से करीब तीन किमी पहले सड़क के क्षतिग्रस्त हिस्से में भी जल्द ही पुश्ता निर्माण का कार्य शुरू किया जाएगा।

बॉक्स समाचार
कोटद्वार से दुगड्डा के बीच बढ़ रही डेंजर जोन की संख्या
नजीबाबाद-बुआखाल राष्ट्रीय राजमार्ग 531 में कोटद्वार से दुगड्डा के बीच डेंजर जोन की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। पूर्व में दुगड्डा के अंतर्गत ऐता बैंड से दुगड्डा बाजार के मध्य करीब एक किमी का सफर काफी सुरक्षित माना जाता था, लेकिन विगत मंगलवार को हुई मूसलाधार बारिश से चूना धारा के समीप राजमार्ग का आधा हिस्सा खोह नदी की भेंट चढ़ गया। आमसौड़ से करीब तीन किमी. पहले सड़क का पुश्ता उफनती खोह नदी की भेंट चढ़ गया है, जिस कारण यहां भी आवागमन को खतरा पैदा हो गया है। पंद्रह किमी. के इस सफर में पंद्रह से अधिक डेंजर जोन हो गए हैं। नतीजा, राजमार्ग पर सफर करना खतरे से खाली नहीं है। मामूली बारिश में गिर रहे बोल्डरों से कोटद्वार-दुगड्डा के मध्य राष्ट्रीय राजमार्ग पर जहां पुश्ते दरक रहे हैं, वहीं हल्की बारिश में पहाड़ी से पत्थर सड़क पर गिर रहे हैं, जिससे दुर्घटनाओं का अंदेशा बना हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!