कोटद्वार में कोरोना वैक्सीनेशन लगाने का पूर्वाभ्यास होगा शनिवार को

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। स्वास्थ्य विभाग की ओर से विभिन्न विभागों के सहयोग से शनिवार को कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर मॉक ड्रिल की जाएगी। स्वास्थ्य विभाग की ओर से इसके लिए रणनीति तैयार की गई है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से केन्द्र लालपानी, राजकीय आयुर्वेदिक अस्पताल सिम्मबलचौड़ ओर पीएसी दुगड्डा में मॉल ड्रिल की जाएगी। कोरोना वैक्सीन लगाने के लिए पांच चरणों से गुजरना पड़ेगा।
उपजिलाधिकारी योगेश मेहरा की अध्यक्षता में सोमवार को तहसील सभागार में टॉस्क फोर्स समिति की बैठक आयोजित की गई। कोविड नोडल प्रभारी डॉ. शैलेन्द्र बड़थ्वाल ने कहा कि शनिवार को कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर मॉक ड्रिल प्रस्तावित है। मॉक ड्रिल में वैक्सीन नहीं लगाई जाएगी। डेमो के रूप में इसका प्रयोग किया जाएगा। उन्होंने कहा कि वैक्सीन को लगाने के लिए पांच चरण की प्रक्रिया से गुजरना होगा। पहले चरण में पीआरडी/पटवारी/पुलिस की टीम तैनात होगी जो वैक्सीन लगाने वाले लोगों की भीड़ की नियंत्रित करेगी और उनकी थर्मल स्क्रीनिंग, हाथ धोने, मास्क पहनने और सोशल डिस्टेसिंग का पालन कराने में सहयोग करेगी। दूसरे चरण में शिक्षा विभाग/ब्लॉक कर्मचारियों की टीम तैनात होगी जो स्वास्थ्य विभाग की ओर से उपलब्ध कराई लिस्ट का वैक्सीन लगाने के लिए आये लोगों के आधार कार्ड के आधार पर सत्यापन करेगी, ताकि जिस व्यक्ति का नाम लिस्ट में उसी को वैक्सीन लगाई जा सके। तीसरे चरण में शिक्षा विभाग/ब्लॉक/राजस्व विभाग की टीम तैनात रहेगी जो कोविड पोर्टल पर वैक्सीन लगवाने वाले व्यक्ति का सत्यापन करेगी और जरूरी डाटा पोर्टल पर दर्ज करेगी। चौथे चरण में स्वास्थ्य विभाग की टीम तैनात होगी, जिसमें स्टाफ नर्स, एएनएम, फार्मासिस्ट शामिल होगें। यह टीम व्यक्ति के दायें हाथ पर वैक्सीन लगायेगी। वैक्सीन लगाते समय स्प्रीट का प्रयोग नहीं किया जाएगा, केवल त्वचा को पानी से साफ किया जाएगा। पांचवें चरण में स्वास्थ्य विभाग के डॉक्टर या चीफ फार्मासिस्ट की टीम मौजूद रहेगी। इस टीम के पास जीवन रक्षक किट रहेगी। इस टीम पर वैक्सीन लगाने वाले व्यक्ति की जिम्मेदारी होगी। यह टीम देखेगी कि वैक्सीन लगाने के बाद व्यक्ति पर कोई रियेक्शन तो नहीं है अगर रियेक्शन होता है तुरन्त उसका उपचार शुरू करेगी और तीसरे चरण की टीम को इसकी जानकारी देकर पोर्टल पर दर्ज की जाएगी। डॉ. बड़थ्वाल ने बताया कि वैक्सीन लगाने के बाद यदि किसी व्यक्ति की तबीयत ज्यादा खराब होती है तो उसे राजकीय बेस अस्पताल रैफर किया जाएगा। बैठक में बीडीओ जयेन्द्र भारद्वाज, नगर निगम के सफाई निरीक्षक सुनील कुमार, स्वास्थ्य लिपिक रोशन नेगी, दुगड्डा ब्लॉक उप शिक्षाधिकारी अभिषेक शुक्ला सहित अन्य विभागों के अधिकारी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!