कोटद्वार में कूड़े के ढेर में लगी आग, हादसा टला

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार।
नगर निगम क्षेत्र के अंतर्गत नजीबाबाद रोड पर शुक्रवार सुबह उस समय हड़कंप मच गया, जब पेट्रोल पंप और वेडिंग प्वांइट के पास कूड़े के ढेर में अचानक आग लग गई। देखते ही देखते आग वेडिंग प्वांइट के जनरेटर रूम तक पहुंच गई। सूचना पर मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड की टीम ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। गनीमत रही कि आग पेट्रोल पंप तक नहीं पहुंची, नहीं एक बड़ा हादसा हो सकता था।
फायर सर्विस यूनिट कोटद्वार के एलएफएम रणधीर सिंह ने बताया कि शुक्रवार सुबह करीब साढ़े सात बजे सूचना मिली कि नजीबाबाद रोड स्थित माहेश्वरी पेट्रोल पंप के पास कूड़े के ढे़र पर आग लगी हुई है और पेट्रोल पंप तक पहुंच सकती है। सूचना पर तत्काल फायर सर्विस की टीम मौके पर पहुंची। जहां पेट्रोल पंप के पास कूड़े एवं जनरेटर रूम में आग लगी थी। जिसे फायर सर्विस यूनिट ने दो एमएफई से दो होजरील निकालकर पंपिंग कर लगी आग को कड़ी मशक्कत के बाद बुझाया। फायर सर्विस यूनिट के अथक प्रयास से पेट्रोल पंप को आग लगने से बचाया गया। आग से किसी प्रकार की जनहानि नहीं हुई। फायर सर्विस यूनिट कोटद्वार के एलएफएम रणधीर सिंह ने कहा कि वहां मौजूद लोगों ने बताया कि नगर निगम के कर्मचारी समय पर कूड़ा नहीं उठाते है। कई बार निगम प्रशासन को समय पर कूड़ा उठाने के लिए कहा गया, लेकिन कोई कार्यवाही नहीं हुई। जिसका नतीजा सभी के सामने है। फायर सर्विस टीम में एलएफएम रणधीर सिंह, डीवीआर योगेश कुमार, प्रदीप कुमार, एफएम लल्लू सिंह, राजवीर सिंह आदि शामिल थे।

वेडिंग प्वाइंट संचालक के खिलाफ कार्यवाही की मांग की
कोटद्वार।
नजीबाबाद रोड निवासी प्रवेश रावत ने कोतवाली में तहरीर दर्ज कराकर वेंडिग प्वाइंट के स्वामी/संचालक के खिलाफ सख्त कानूनी कार्यवाही करने की मांग की है। प्रवेश रावत ने पुलिस को दी तहरीर में बताया कि नजीबाबाद रोड स्थित एक वेडिंग प्वांइट में शुक्रवार सुबह भीषण आग लग गई थी। दमकल कर्मियों ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। उन्होंने कहा कि आग वाले स्थान से मात्र दस फुट की दूरी पर एक पेट्रोल पंप स्थित है। पेट्रोल पंप अगर आग की चपेट में आ जाता तो वहां पर स्थित घनी आबादी में सैकड़ों की जान जा सकती थी एवं करोड़ों रूपये की संपति का नुकसान हो जाता। प्रवेश रावत ने कहा कि वेडिंग प्वाइंट स्वामी/संचालक द्वारा वेडिंग प्वांइट के अंदर कूड़ा एकत्र किया जाता है तथा एकत्रित कूड़े को अंयत्र न फेंककर वहीं पर आग लगा दी जाती है। उन्होंने कहा कि पूर्व में भी स्थानीय लोग वेडिंग प्वाइंट के अंदर कूड़ा न जलाने के लिए वेडिंग प्वाइंट स्वामी/संचालक को कह चुके है, लेकिन वेडिंग प्वाइंट के अंदर जानबूझकर कूड़ा जलाया जा रहा है। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि वेडिंग प्वाइंट में मानकों के अनुसार अग्निशमन उपकरण नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!