कोटद्वार में एनएच किनारे लगे कूड़े के ढेर, खोल रहे स्वच्छता अभियान की पोल

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार।
भले ही सरकार स्वच्छ भारत मिशन को सफल बनाने के लिए कड़ी मशक्कत कर रही हो, लेकिन कोटद्वार में स्वच्छता को लेकर लोग जागरूक नहीं हो रहे है। हाईवे के किनारे जगह-जगह कूड़े के ढेर लगे हुए है। जो यात्रियों के साथ ही स्थानीय लोगों के लिए परेशानी का सबब बने हुए है। वहीं संक्रामक रोगों की चपेट में आने का कारण भी साबित हो रहे है।
कोटद्वार में स्वच्छता को लेकर कई कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। इन आयोजनों के दौरान स्वच्छता के बड़े-बड़े पाठ भी पढ़ाए जाते हैं, लेकिन यह सभी महज छलावा व दिखावे के लिए ही रह गया है। जबकि, शहर में स्वच्छता को लेकर कोई भी गंभीर नजर नहीं आ रहा है। कई जगह गंदगी के ढेर लगे है, लेकिन नियमित तौर पर इनकी सफाई नहीं की जा रही है। नगर में जहां-तहां डंप कूड़े से लोगों का जीना दूभर हो चुका है। राष्ट्रीय राजमार्ग सहित अन्य मार्गों के किनारे लगे कूढ़े के ढेरों से आम जनता, जनप्रतिनिधि, व्यापारी बेहद परेशान हैं। नगर के विभिन्न मार्गों के किनारे कूड़े के ढेरों पर लावारिस जानवर देखे जा सकते है। नजीबाबाद रोड, देवीरोड, मालगोदाम रोड, गाड़ीघाट तिराहा, काशीरामपुर तल्ला मार्ग सहित अन्य स्थानों पर कूड़ा समय से न उठने के कारण दुर्गंध फैल रही है। रविवार को राष्ट्रीय राजमार्ग 534 पर इलाहबाद बैंक के पास सड़क किनारे कूड़े का ढेर लगा हुआ था। स्थानीय लोग नियमित कूड़ा उठाने की मांग नगर निगम से कई बार कर चुके है, लेकिन जिम्मेदार अधिकारी इस ओर ध्यान नहीं दे रहे है। नजीबाबाद रोड पर पर सड़क किनारे लगे कूड़े के ढेर के चलते वहां से गुजरने वाले वाहन चालकों को परेशानी होती है। इसके साथ ही कूड़े की वजह से पूरे क्षेत्र में दुर्गंध फैली रहती है। उधर नगर निगम के नगर आयुक्त पीएल शाह का कहना है कि कर्मचारियों को नियमित रूप से कूड़ा उठाने के लिए निर्देशित किया जायेगा। निगम लोगों को सुविधाएं देने के लिए प्रतिबद्ध है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!