कोटद्वार में सेना भर्ती रैली बीस दिसंबर से, ऑनलाइन पंजीकरण शुरू 

Spread the love
जयन्त प्रतिनिधि। 
कोटद्वार। गढ़वाल राइफल्स रेजिमेंटल सेंटर के सेना भर्ती कार्यालय की ओर से विक्टोरिया क्रॉस गब्बर सिंह कैंप कौड़िया कोटद्वार में बीस दिसम्बर 2020 से 2 जनवरी 2021 तक भर्ती रैली आयोजित की जाएगी। रैली में प्रतिभाग करने के लिए ऑनलाइन पंजीकरण प्रक्रिया शुरू हो गई है। इच्छुक अभ्यर्थी चार दिसम्बर तक ऑनलाइन पंजीकरण कर सकते है। महत्वपूर्ण दिशा निर्देश सावधानी पूर्वक पढ़े और व्यक्ति ब्यौरा सही तरीके से भरें। रैली में प्रतिभाग करने वाले युवकों को फेस मास्क, हैंड ग्लब्स, सैनिटाइजर व पानी की बोतल लाना अनिवार्य है।
लैंसडौन में गढ़वाल राइफल्स रेजिमेंटल सेंटर के भर्ती कार्यालय की ओर से जारी विज्ञप्ति में बताया गया है कि भर्ती रैली के लिए पांच नवंबर से चार दिसंबर तक आवेदन पत्र भरे जा सकते हैं। जिन अभ्यर्थियों ने पहले से अपना पंजीकरण किया था उनका पंजीकरण भर्ती रैली के लिए मान्य नहीं होगा। अभ्यर्थियों को दोबारा पंजीकरण करना होगा। भर्ती निदेशक कर्नल विनीत बाजपेयी ने बताया कि कोटद्वार के विक्टोरिया क्रॉस गबर सिंह कैंप में आयोजित होने वाली इस भर्ती रैली में पौड़ी, रुद्रप्रयाग, चमोली, टिहरी, उत्तरकाशी, हरिद्वार व देहरादून जिलों के युवा प्रतिभाग करेंगे। जिलेवार भर्ती रैली कार्यक्रम जल्द ही जारी किया जाएगा। उन्होंने बताया कि अभ्यर्थी सेना की बेबसाइट पर अपना पंजीकरण करके आवेदन पत्र स्वयं भर सकते है। अभ्यर्थी ऑनलाइन आवेदन पत्र भरते समय व्यक्ति ब्यौरा जैस कि अभ्यर्थी का नाम, माता, पिता का नाम, जन्मतिथि, मैट्रिक प्रमाण पत्र नंबर, हाईस्कूल, इंटरमीडिएट परीक्षा के अंक, आधार कार्ड नंबर, स्वयं का मोबाइल नंबर, ई-मेल आईडी, पता (स्थाई निवास प्रमाण पत्र के अनुसार) सही तरीके से भरें। रैली में होने वाली दस्तावेज जांच प्रक्रिया के दौरान उन अभ्यर्थियों को निरस्त किया जाएगा जिनके मूल दस्तावेजों का ब्यौरा भरें ब्यौरे से मेल नहीं खाता है।
दलालों से सावधान रहने की अपील  
सेना भर्ती कार्यालय के निदेशक कर्नल विनीत वाजपेयी ने युवाओं से दलालों से सावधान रहने की अपील करते हुए कहा कि भर्ती प्रक्रिया पूरी पारदर्शी है। कोई भी दलाल किसी भी युवा को भर्ती नहीं करवा सकता। दलालों के बहकावे में आकर जाली दस्तावेज ना बनायें। भर्ती रैली में होने वाली दस्तावेज, जांच प्रक्रिया के दौरान गलत पाये जाने पर अभ्यर्थियों को निरस्त किया जाएगा और पुलिस हिरासत में दिया जाएगा। जो कि जाली दस्तावेज के माध्यम से भर्ती होने का प्रयास करेगें। उन्होंने युवाओं से पैसे लेकर भर्ती का झांसा देने वालों की जानकारी तत्काल भर्ती अधिकारी व पुलिस को देने की अपील की। साथ ही अपने मूल दस्तावेज किसी ठगों के हाथ न लगने दें और ना ही किसी को कोई भी धनराशि दें।
भर्ती रैली में यह दस्तावेज साथ लाने अनिवार्य
सेना भर्ती कार्यालय के निदेशक कर्नल विनीत वाजपेयी ने बताया कि लेटर प्रिंटर से प्रिंट किया हुआ एडमिट कार्ड साथ में लाना अनिवार्य है। हाईस्कूल, इंटरमीडिएट परीक्षा की मूल प्रमाण पत्र व अंकतालिका, स्थाई निवास प्रमाण पत्र, जाति प्रमाण पत्र, चरित्र प्रमाण पत्र, अविवाहित प्रमाण पत्र, रिलेशनशिप सर्टिफिकेट, एनसीसी सर्टिफिकेट, स्पोर्टस सर्टिफिकेट, शपथ पत्र (एफिडेविड), आधार कार्ड, पैन कार्ड, स्वयं का बैंक अकाउंट नंबर, स्वयं के 25 पासपोर्ट साईज फोटाग्राफ की मूल प्रति और दो प्रतिलिपि फोटो स्टेट साथ में लाना अनिवार्य है। उन्होंने बताया कि चरित्र प्रमाण पत्र और अविवाहित प्रमाण पत्र छ: महिने के अंदर का हो।
कोविड नेगेटिव रिपोर्ट जरूरी 
सेना भर्ती कार्यालय के निदेशक कर्नल विनीत वाजपेयी ने बताया कि भर्ती रैली में भाग लेने वाले सभी अभ्यर्थियों के मोबाइल फोन में आरोग्य सेतु एप होना अनिवार्य है। रैली में भाग लेने वाले अभ्यर्थी किसी भी कंटेनमेंट जोन से यात्रा नहीं करेगें। अभ्यर्थियों को रैली के लिए पर्याप्त फेस मास्क, हैंड ग्लब्स, हैंड सैनिटाइजर और पानी की बोतल लाना जरूरी है। सभी अभ्यर्थियों को कोविड-19 से पीड़ित न होने और नो रिस्क सर्टिफिकेट साथ में लेकर आना अनिवार्य है। रैली स्थल पर बुखार, सर्दी, खांसी और नाक बहने जैसे लक्षण पाए जाने पर उन अभ्यर्थियों को सेना भर्ती में भाग लेने नहीं दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!