कुम्भ में देव डोलियों के स्नान से अमृत की बूंदों से होगा मानव मात्र का कल्याण: सतपाल महाराज

Spread the love

हरिद्वार। देवभूमि लोक संस्कृति विरासतीय शोभायात्रा समिति की ओर से महाकुंभ मेले के दौरान शुक्रवार को श्री बद्रीनाथ जी एवं श्री हनुमान जी की पवित्र धर्म ध्वजा की स्थापना समारोह का आयोजन श्री प्रेम नगर आश्रम में किया गया। इस मौके पर मुख्य यजमान कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज और पूर्व कैबिनेट मंत्री अमृता रावत ने कार्यक्रम में ध्वजा स्थापना के लिए वैदिक रीति रिवाज से कलश पूजन अर्चन किया। विष्णु सहस्रनाम व हनुमान चालीसा का पाठ कर यजमानों ने धर्मध्वजा स्थापित की। आयोजन में शामिल महिलाओं ने मंगलगीत व देवस्तुति गीत गाकर वातावरण को धार्मिक आस्था के रंग में रंग दिया। आयोजन के मुख्य यजमान कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि कुंभ में सभी देवता 25 अप्रैल को गंगा स्नान के लिए आएंगे। उन्होंने कहा कि आयोजन के लिए बजट की घोषणा कैबिनेट से कराने का उनका प्रयास रहेगा। गंगा स्नान को आने वाली देव डोलियों का स्वागत और भव्य अभिनंदन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि गंगा स्नान से सभी वैक्टीरिया, वायरस समाप्त हो जाते हैं, यह विज्ञान ने भी सिद्ध कर दिया है। कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि कुंभ में देवडोलियों के स्नान से अमृत की बूंदों से पूरे मानवमात्र का कल्याण होगा। महामंडलेश्वर स्वामी श्री हरिचेतनानंद महाराज ने कहा कि प्रेमनगर आश्रम में धर्मध्वजा स्थापना आयोजन में लगता है सभी देवी देवता स्वयं उपस्थित होकर हम सभी को आशीर्वाद दे रहे हैं। कुंभ में देवभूमि की देव डोलियां भी स्नान करतीं हैं। देवी देवताओं के आशीर्वाद से हरिद्वार में दिव्य व भव्य कुंभ का सफलतापूर्वक आयोजन होगा। उन्होंने मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत के कुंभ आयोजन के लिए लिए गए ऐतिहासिक निर्णय की सराहना की। जूना अखाड़े के महामंडलेश्वर स्वामी वीरेंद्रानंद गिरि ने कहा कि 25 अप्रैल को देवडोलियों के स्नान में प्रदेश के सभी जिलों से आई देव डोलियां स्नान करेंगी।
इस अवसर पर रानीपुर विधायक आदेश चौहान, आईजी कुंभ संजय गुंज्याल, अपर मेलाधिकारी रामजी शरण शर्मा, भाजपा जिलाध्यक्ष डॉ0 जयपाल सिंह चौहान, मनोज गर्ग, रवि बाबू शर्मा, मुख्य संयोजक श्री महंत अनिल गिरि, कार्यक्रम सह संयोजक मुकेश जोशी, डॉ0 मीरा रतूड़ी, रीता चमोली, मीडिया प्रभारी मन्नू रावत, सह मीडिया प्रभारी दीपक नेगी आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!