लक्सर पुलिस व एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट ने किया बच्चा चोर गिरफ्तार

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

देहरादून व यूपी के बदायूं में बेच चुका है चोरी किए गए बच्चे
नाबालिगा से दुष्कर्म मामले में गिरफ्तारी के बाद पूछताछ करने पर हुआ खुलासा
हरिद्वार। लकसर कोतवाली पुलिस ने ह्यूमन ट्रैफिकिंग के मामले का खुलासा करते हुए एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपी द्वारा अपहरण कर बेचे गए दो बच्चे भी पुलिस ने बरामद किए हैं। आरोपी मोहम्मद मुस्ताक कादरी निवासी बदायूं के कब्जे से चाइल्ड लाईन और अनाथालय के फर्जी दस्तावेज भी बरामद हुए हैं। लकसर कोतवाली पुलिस द्वारा एक नाबालिगा के साथ दुष्कर्म के मामले की जांच के दौरान पकड़ में आए मोहम्मद मुस्ताक कादरी से पूछताछ के दौरान ह्यूमन ट्रैफिकिंग मामले का खुलासा हुआ। प्रैसवार्ता के दौरान पत्रकारों को जानकारी देते हुए एसएसपी अजय सिंह ने बताया कि लकसर क्षेत्र की एक नाबालिगा के साथ कोल्ड ड्रिंक में नशीला पदार्थ मिलाकर दुष्कम किए जाने की जांच पड़ताल करते हुए कोतवाली पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर लकसर रेलवे स्टेशन से मोहम्मद मुस्ताक कादरी पुत्र अकील अहमद निवासी सिरसौल पट्टी सीताराम बदायूं उ़प्ऱक को गिरफ्तार कर पूछताछ के दौरान उसने बताया कि वह विभिन्न रेलवे स्टेशनों पर भूले भटके बच्चों की तलाश में घूमता रहता है तथा मौका मिलते ही बच्चा चोरी कर लेता था। जिन्हे जरूरमंद लोगों को बेच देता था। उसने दिल्ली बस अड्डे तथा गाजियाबाद से दो बच्चे चोरी कर देहरादून व बदायूं में बेचे हैं। एसएसपी ने बताया कि दिल्ली से चोरी किए गए बच्चे के संबंध में थाना कश्मीरी गेट में मुकद्मा दर्ज है। गाजियाबाद से चोरी किए गए बच्चे के संबंध में जानकारी जुटायी जा रही है। लोगों की नजरों में धूल झोंकने के लिए उसने चाइल्ड हेल्प लाइन व प्रयास अनाथालय दिल्ली के फर्जी दस्तावेज बनाए हुए हैं। उसने सिडकुल क्षेत्र में किराए पर कमरा लिया हुआ था और लोगों को अपना परिचय रेलवे चाइल्ड हेल्प लाइन के अधिकारी के तौर पर देता था। एसएसपी ने मामले के खुलासे के लिए विवेचक एसआई गीता चौहान व सुल्लानपुर चौकी प्रभारी मनोज नौटियाल की विशेषतौर पर प्रशंसा करते हुए इसे लकसर पुलिस एवं एंटी हयूमन ट्रैफिकिंग यूनिट की शानदार उपलब्धि बताते हुए कहा कि देहरादून व बदायूं में बेचे गए दोनों बच्चों को सकुशल बरामद कर लिया गया है। आरोपी मोहम्मद मुस्ताक कादरी द्वारा नाबालिगा के साथ हरिद्वार के एक लज में ले जाकर दुष्कर्म किया गया था। जिसमें लज स्वामी द्वारा नाबालिगा की आईडी नहीं लेने पर उसके खिलाफ भी कार्रवाई की जा रही है। एसएसपी अजय सिंह ने अपील करते हुए कहा कि बच्चा हमेशा उचित माध्यम से ही गोद लें। गोद लेने से पहले पूरी जांच पड़ताल करें। उन्होंने कहाकि लोग बच्चा गोद लेने से पहले बच्चे के संबंध में पूरी जानकारी नहीं करते है। मोहम्मद मुस्ताक कादरी जैसे शातिर लोग इसी बात का फायदा उठाते हैं। वह यदि गिरफ्तार नहीं किया जाता तो फिर किसी परिवार का बच्चा चोरी करता।
पुलिस टीम में लकसर कोतवाली प्रभारी यशपाल सिहं बिष्ट, एसएसआई अंकुर शर्मा, भिक्कमपुर चौकी प्रभारी मनोज ममगाई, सुल्तानपुर चौकी प्रभारी मनोज नौटियाल, विवेचक एसआई गीता चौहान, कांस्टेबल अजीत तोमर, राकेश कुमार शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!