मल्यालगांव में अवैध खनन की जांच शुरू

Spread the love

अल्मोड़ा। तहसील के सुदर मल्यालगांव में वन भूमि में बड़े पैमाने पर हुए अवैध खनन के आरोपों की जांच शुरू हो गई है। बुधवार को राजस्व व लोनिवि की टीम ने मौके पर जाकर मुआयना किया। वन भूमि में किए गए खनन का निरीक्षण करने के साथ टीम ने नापजोख भी की। राजस्व व लोनिवि संयुक्त रूप से रिपोर्ट तैयार कर प्रशासन को सौंपेगी। तहसील के कुंवाली क्षेत्र में वर्तमान में निर्माणाधीन गोलूछीना-मुझोली-मल्यालगांव मोटर मार्ग में सोलिंग का काम चल रहा है। लोनिवि प्रांतीय खंड अल्मोड़ा की देखरेख में रामनगर की एक कंपनी सोलिंग का कार्य कर रही है। आरोप है कि ठेकेदार द्वारा सड़क निर्माण के लिए क्षेत्र में धड़ल्ले से अवैध खनन किया जा रहा है। वन भूमि से बड़े पैमाने पर अवैध खनन पत्थरों को सोलिंग कार्य में इस्तेमाल किया जा रहा है। ग्रामीणों का आरोप है कि वन भूमि की इस पहाड़ी में 50 फीट तक किए गए अवैध खनन से क्षेत्र में खतरनाक भूस्खलन क्षेत्र बन गया है, जिससे भविष्य में बारिश में बड़ी तबाही मचने के साथ निचले क्षेत्रों के लिए बड़ा खतरा पैदा हो गया है। बीते मंगलवार को नायब तहसीलदार दलीप सिंह ने मौका मुआयना कर लोनिवि के अधिकारियों से रोड प्लान तलब किया था। जिसके बाद बुधवार को क्षेत्रीय पटवारी व लोनिवि अल्मोड़ा के अधिकारियों ने मौके पर जाकर जांच की। खनन क्षेत्र का व्यापक निरीक्षण करने के बाद टीम ने नापजोख की। नायब तहसीलदार दलीप सिंह ने बताया कि संयुक्त टीम रिपोर्ट तैयार कर रही है। रिपोर्ट तैयार होने के बाद जिलाधिकारी को भेजी जाएगी। अवैध खनन पाए जाने पर कड़ी कर्रवाई होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!