चमोली में भारत चीन सीमा को जोड़ने वाला नीती मोटर मार्ग भूस्खलन से बंद

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

गोपेश्वर (चमोली)। नीती के पास काली मंदिर के पास पहाड़ी से चट्टान टूटने से हाइवे बंद हुआ है। गोपेश्वर (चमोली)। भारत चीन सीमा को जोड़ने वाला नीती मोटर मार्ग भूस्खलन से बंद हो गया है। नीती में काली मंदिर के पास पहाड़ी से चट्टान टूटने से हाइवे बंद हुआ है।बताया गया कि चट्टान टूटने से एक मशीन भी क्षतिगस्त हुई है। जेसीबी मशीन के ऊपर टूटी चट्टान का मलबा आ गया है। इस घटना में किसी भी प्रकार की जनहानि नहीं हुई है। बीआरओ ( मार्ग खोलने में जुट गया है। इस हाइवे से ही सेना ने सीमा पर चौकियों में रसद की सप्लाई करती है।
जनपद में वर्षा से राज्य मार्ग पैठाणी-नोटी-कर्णप्रयाग के अलावा डुंगरीपंथ-छातीखाल, किंसूर-कांडी, दमदेवल-गडरी-झलपाडी, पोखरीखेत-चोरकंडी-मासौ, पोखरी-डुमका समेत ग्रामीण क्षेत्रों के 23 मोटर मार्ग शामिल हैं। हालांकि बंद मार्गों को खोलने में जगह-जगह जेसीबी मशीने लगाई गई हैं,लेकिन इसमें भी बारिश बाधा बन रही है।
चमोली जनपद में बदरीनाथ हाइवे बीते रोज दोपहर से लामबगड़ खचडानाला में जलस्तर बढ़ने से बंद रहा। बताया गया कि लगातार मौसम खराब के चलते व जलस्तर बढ़ने से हाइवे खोलने का काम नहीं हो पा रहा था। पुलिस प्रशासन ने पांडुकेश्वर, गोविंदघाट व जोशीमठ में सात सौ यात्रियों को रोका गया था, जिन्हें बदरीनाथ जाना था। फिलहाल, हाईवे सुचारू है।
मौसम विभाग ने उत्घ्तराखंड के सात जिलों के लिए यलो अलर्ट जारी किया है। विभाग ने कुछ स्थानों पर भारी वर्षा का अंदेशा जताया है। पर्वतीय जनपदों में आपदा के लिहाज से संवेदनशील क्षेत्रों में प्रशासन को अलर्ट रहने की सलाह दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!