एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने फूंका मानव संसाधन विकास मंत्री का पुतला

Spread the love
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने केन्द्रीय मानव संसाधन मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक का पुतला फूंक कर यूजीसी के नये दिशा निर्देश का विरोध जताया। उन्होंने कहा कि यूजीसी की गाइड लाइन के अनुसार सभी विश्वविद्यालयों द्वारा डेटसीट जारी कर दी गई है। जिसके अनुसार वार्षिक प्रणाली और अंतिम सेमेस्टर के छात्र-छात्राओं की परीक्षाएं सितम्बर माह में आयोजित होनी है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा उक्त आदेश वापस नहीं लिया गया तो देश भर में एनएसयूआई द्वारा उग्र आंदोलन किया जाएगा।
डॉ. पिताम्बर दत्त बड़थ्वाल हिमालयन राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय कोटद्वार के मुख्य गेट के बाहर एनएसयूआई जिला महासचिव सौरव पाण्डेय के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने केन्द्रीय एचआरडी मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक का पुतला दहन किया। साथ ही केन्द्रीय मंत्री के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। सौरव पाण्डेय ने कहा कि यूजीसी की गाइडलाइन के अनुसार सभी विश्वविद्यालय और महाविद्यालय की परीक्षाएं 30 सितम्बर तक आयोजित की जानी है। प्रदेश में तेज गति से कोरोना वायरस की महामारी के बढ़ने की वजह से मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है। वहीं कोटद्वार में पिछले पांच दिनों में कोरोना के 33 नये केस आये है। जो कि दिन प्रतिदिन बढ़ते जा रहे है। जिससे की महामारी के फैलने की आशंका बनी हुई है। उन्होंने केन्द्र सरकार से वार्षिक प्रणाली और अंतिम सेमेस्टर के सभी छात्र-छात्राओं को पिछले सेमेस्टर के आधार पर और असाइनमेंट के आधार पर अगली कक्षा में प्रमोट करने की मांग की है। ताकि इस महामारी के समय सभी छात्र-छात्राएं सुरक्षित रहे। पुतला दहन करने वालों में छात्रसंघ कोषाध्यक्ष मेघा कुलाश्री, उपाध्यक्ष भास्कर प्रजापति, नरेश कोटनाला, पवन रावत, राजा आर्य, अभिषेक अग्रवाल, जावेद, अभिषेक काला आदि शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!