वैक्सीनेशन को लेकर कुछ व्यवस्थाएं अब भी अधूरी ….. घंटों लाइन में लग रहे लोग

Spread the love

रुद्रपुर। वैक्सीनेशन पिछले चार माह से चल रही है, लेकिन कुछ व्यवस्थाएं अब भी अधूरी हैं। अब तक वारियर्स और फ्रंट लाइन वर्कर्स को डोज दी जा रही थी। 10 मई से 18 से 44 वर्ष के लोगों को डोज दी जा रही है। कुछ केंद्रों पर वैक्सीन टेबल बढ़ाने की आवश्यकता है, जिससे घंटों लोग लाइन में परेशान न हों। अब तक ऊधमसिंह नगर में ढाई लाख से अधिक लोगों को कोविड-19 से बचाव के लिए वैक्सीन दी जा चुकी है। अब बारी युवाओं की है। मंगलवार को जिला मुख्यालय के विभिन्न वैक्सीन सेंटर पर दो हजार से अधिक लोगों ने खुराक लगवाई। वैक्सीन लगवाने के लिए दिन, समय का स्लाट चयन करने के बाद ही आवेदन स्वीकार्य हो रहा है। सेंटर्स पर व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस टीम तैनात है, लेकिन महिला व पुरुष की लाइन अलग, दिव्यांगों को अलग व्यवस्था नहीं की गई है। गोल मार्केट स्थित गुरुद्वारा सेंटर पर घंटों लाइन में लोगों को लगना पड़ा। व्यवस्था में थोड़ा बदलाव करें तो लोगों को सहूलियत मिलने के साथ ही शारीरिक दूरी का पालन भी होगा। यहीं नहीं, आनलाइन पंजीयन कराने के बाद स्थान व समय का स्लाट का चयन कर बुला लिया जाता है, मगर घंटों में लाइन लगने के बाद पता चलता है कि वैक्सीन खत्म हो गई। बिना वैक्सीन लगाए ही कई लोग बैरंग लौट रहे हैं।
रेमडेसिविर के 400 इंजेक्शन मेडिकल कालेज पहुंचे: जिले में कोरोना संक्रमितों के इलाज में प्रयोग में लाए जा रहे रेमडेसिविर इंजेक्शन की खेप पहुंच गई है। मंगलवार को मेडिकल कालेज में रेमडेसिविर इंजेक्शन के वितरण की जिम्मेदारी निभाने वाले एसीएमओ डा. अविनाश खन्ना ने सुबइ 40 रेमडेसिविर इंजेक्शन विभिन्न कोविड केंद्रों को मांग के आधार पर वितरित किया। डा. खन्ना ने बताया कि सोमवार शाम 400 रेमडेसिविर इंजेक्शन मुख्यालय से मिल गए हैं। फिलहाल अभी जिले में इंजेक्शन की कमी नहीं है। आरटीपीसीआर सैंवलिग के लिए आए लोगों को मौके पर ही कोविड किट दी जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!