स्वयं सहायता समूह के खोले बचत खाते

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि
पौड़ी। मुख्य विकास अधिकारी गढवाल प्रशांत कुमार आर्य के निर्देशों परे विकासखण्डों के बैंक शाखावार एनआरएलएम सीसीएल कैम्पों का आयोजन रोस्टर के अनुसार किया जा रहा है, इसी क्रम में विकासखण्ड द्वारीखाल के जिला सहकारी बैक चौलुसैण में स्वयं सहायता समूह के बचत खाते खोले गए।
कार्यक्रम के तहत स्वयं सहायता समूह के तीन बचत खाते एवं दो सीसीएल की औपचारिकता पूर्ण की गयी। विकासखण्ड दुगडडा के यूजीबी कुम्भचौड में स्वयं सहायता समूह के तीन सीसीएल की औपचारिकता पूर्ण कर बैंक द्वारा स्वीकृति प्रदान की गयी। थलीसैंण के यूजीबी पैठाणी में 2 सीसीएल एवं एसबीआई पैठाणी में 1 सीसीएल स्वीकृति प्रदान की गयी। साथ ही विकासखण्ड पोखड़ा के जिला सहकारी बैंक पोखडा में 7 समूहों को सीसीएल और पीएनबी पोखडा में 1 सीसीएल स्वीकृत दी गयी। नैनीडाडा विकासखण्ड के डीसीबी नैनीडाडा द्वारा सीसीएल कैंप में 5 बचत खाते एवं 8 सीसीएल स्वीकृत कर समूहों को प्रदान की गयी। आयोजित सीसीएल कैम्पों को सम्बन्धित बैंक शाखाओं के कार्मिकों एवं एनआरएलए टीम द्वारा सफल बनाने में सहयोग किया गया। वहीं, मुख्य विकास अधिकारी प्रशान्त कुमार ने राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (एनआरएलएम) के अंतर्गत वित्तीय 2021-22 में गठित 09 विकासखण्डों हेतु 101 समूहों को 10 हजार की प्रति दर से 10 लाख 10 हजार की रिवाल्विंग फण्ड (चक्रीय कोष) स्वीकृति प्रदान की है। जिसमें जयहरीखाल के 06, कल्जीखाल 05, यमकेश्वर 20, पोखडा 12, द्वारीखाल 20, पाबौ 11, एकेश्वर 09, खिर्स 09 तथा विकासखण्ड नैनीडांडा के 09 समूह शामिल हैं। परियोजना निदेशक/जिला मिशन प्रबंधक संजीव कुमार रॉय ने जानकारी देते हुए बताया कि जो धनराशि स्वीकृत की गई है वह सीधे सम्बन्धित समूहों के खाते में अवमुक्त की जा जाएगी। समूहों द्वारा उक्त धनराशि का उपयोग अपने सदस्यों व समूह की सहायता हेतु रिवाल्विंग फण्ड (चक्रीय कोष) के रूप में किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!