पौड़ी गढ़वाल: डीआईजी की सुरक्षा गार्ड करेगी बंगले में लगे सेबों की बन्दरों से रखवाली, असफल होंने पर होंगे दण्डित

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
देहरादून : पौड़ी मण्ड़ल मुख्यालय पौड़ी का हाल भी अब दिन प्रतिदिन अजीव होता जा रहा है। मण्डल स्तर के प्रशासनिक अधिकारी जहां यहां से लगभग गायब रहते हैं वहीं उनका तामझाम बरकरार रहता है। ऐसे में जब अधिकारी सालभर में कुछ ही दिन यहा आते हैं तो भी वे बंगले का पूरा आनन्द उठाना चाहते हैं। यानि कि बंगले में लगे बगीचे के फलों का भी आनन्द उठाना चाहते हैं। जब यहां साहब कभी कभार आते हैं तो वहां तैनात सुरक्षा गार्ड का उपयोग साहब के बगीचे में लगे फलदार पेड़ों की बंदरों से सुरक्षा में कराई जा रही है।
यकीन मानिए उत्तराखंड में कुछ ऐसा ही चल रहा है यहां भले ही सड़क चौराहों पर पुलिसकर्मी कम पड़ जाते हो लेकिन साहब लोगों के घर लगे बगीचों की सुरक्षा के लिए पुलिस अधिकारी गार्ड तैनात करने के आदेश देने में कोई कोताही नहीं बरतते। अब ताजा मामला जनपद पौड़ी का है, जहां सेब के पेड़ पर लगे सेबों को बंदरों से बचाने के लिए पुलिस उपाधीक्षक स्तर पर आदेश जारी किए गए हैं। यानी कि डीआईजी साहब के सरकारी आवास में लगे सेब के पेड़ों की सुरक्षा के लिए कोई माली नहीं बल्कि साहिब के बंगले में तैनात सुरक्षा गार्ड के जवान तैनात किए जाएंगे।
इस संबंध में बकायदा प्रतिसार निरीक्षक को पुलिस उपाधीक्षक की ओर से सरकारी पत्र जारी किया गया है जिसमें लिखा है कि डीआईजी साहब के घर पर लगे सेब के पेड़ों पर लगे फलों को बंदर नुकसान पहुंचा रहे हैं, अत: यहां जल्द से जल्द सेब के फलों को बचाने के लिए सुरक्षा गार्ड तैनात किए जाएं।
पत्र में एक बात का खास तौर पर जिक्र किया है जिसमें कहा गया है कि सेब के फलों की सुरक्षा में यदि कोई भी कोताही बरती गई तो सुरक्षा गार्डों को दंड के लिए भी तैयार रहना होगा।
सोचिए उत्तराखंड के लोग कितने भाग्यशाली हैं की यहां की पुलिस जब बंदरों और फलों को लेकर इतनी कड़े दिशा निर्देश जारी कर सकती है वह आपकी सुरक्षा के प्रति कितनी गंभीर रहती होगी?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!