पौड़ी गढ़वाल में दहशत: कोटद्वार का व्यापारी निकला पहला लोकल कोरोना पॉजिटिव

Spread the love

 

सील हो सकती है कोटद्वार की मार्केट व पॉश कालोनी

जयन्त प्रतिनिधि।

कोटद्वार। जनपद पौड़ी गढ़वाल में प्रवासी लोगों में कोरोना वायरस मिलने के बाद कोटद्वार की पॉस कालोनी में निवास करने वाले एक व्यापारी में कोरोना वायरस की पुष्टि होने से स्वास्थ्य विभाग सहित स्थानीय प्रशासन व पुलिस में हड़कंप मचा हुआ है। कोरोना पॉजिटिव व्यापारी युवक की माँ भी बेस अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती है। जिनकी अभी तक कोरोना रिपोर्ट नहीं आई है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार कोरोना पॉजिटिव मिले व्यापारी के व्यवसायिक स्थल की मार्केट व उससे लगी मार्केट और आवासीय कॉलोनी को सील किया जायेगा। साथ ही कोरोना पॉजिटिव आये व्यापारी के सम्पर्क में आये लोगों की खोजबीन कर उन्हें क्वारंटीन किया जा सकता है।

कोटद्वार नगर के व्यापारी में कोरोना वायरस की पुष्टि होने से जिला परिषद मार्केट के व्यापारियों व वहां आने-जाने वाले ग्राहकों में भी दहशत फैली हुई है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी पौड़ी गढ़वाल डॉ. मनोज बहुखण्डी ने बताया कि कोरोना पॉजिटिव आये व्यापारी को 10 जून को बुखार की शिकायत पर राजकीय बेस अस्पताल कोटद्वार के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया था। 10 जून को व्यापारी का सैंपल लिया गया और 11 जून को जांच के लिए एम्स ऋषिकेश भेजा गया। शनिवार को व्यापारी की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। सीएमओ ने बताया कि व्यापारी की माँ कोटद्वार से फरिदाबाद हरियाणा इलाज कराने के लिए गई थी। पिछले महीने 28 मई को वह कोटद्वार लौटी थी। व्यापारी के साथ ही उसकी माँ को भी बेस अस्पताल के आइसोलशन वार्ड में भर्ती कराया गया था और जांच के लिए दोनों के सैंपल भेज दिये थे। आज शनिवार को व्यापारी की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है जबकि अभी कोटद्वार से फरिदाबाद हरियाणा इलाज कराने के लिए गई व्यापारी की माँ की रिपोर्ट नहीं आई है। उन्होंने बताया कि व्यापारी के परिवार के सभी सदस्यों की जांच कराई जायेगी। स्थानीय प्रशासन को जानकारी दे दी गई है कि कोटद्वार का एक व्यापारी कोरोना पॉजिटिव आया है।

 

 

ज्ञातव्य हो कि कोटद्वार की जिस मार्केट का व्यापारी कोरोना पॉजीटिव मिला है वह कोटद्वार नगर की सबसे ज्यादा भीड़ भाड़ वाली मार्केट है। इस मार्केट में आने-जाने वाले स्थानीय ग्राहक उससे लगी मालिनी मार्केट व गोखेल मार्ग की दुकानों में भी पहुंचते है। क्योंकि मार्केट गोखले मार्ग और मालिनी मार्केट से इंटर कनेक्ट है। इस स्थिति में 28 मई से 10 जून तक वहां आने जाने वाले लोगों को भी खतरा पैदा हो सकता है।

इसी के साथ जिस पॉश कॉलोनी में यह कोरोना पॉजिटिव व्यापारी का निवास है। वह भी बहुत जनसंख्या वाली कॉलोनी है। जिससे मार्केट के साथ-साथ कॉलोनी के लोगों में भी दहशत बननी लाजमी है।

 

 

सील हो सकती है कोटद्वार की मार्केट व पॉश कालोनी

कोटद्वार की भीड़ भाड़ वाली मार्केट एवं पॉश कॉलोनी निवासी व्यापारी में कोरोना वायरस की पुष्टि होने के बाद प्रशासन कोविड-19 की लोकल ट्रांसमिशन को रोकने के लिए जिला पंचायत मार्केट, मालिनी मार्केट, गोखले मार्ग व स्टेशन रोड सहित पॉश कॉलोनी को क्टेंनमेंट जोन घोषित कर सील कर सकता है। क्योंकि स्थानीय व्यक्ति में कोरोना वायरस के संक्रमण से अन्य स्थानीय व्यक्तियों में भी इसका फैलाव हो सकता है।

इस मामले में स्वास्थ्य विभाग के स्थानीय मुखिया डॉ. वीसी काला ने बताया कि बैठक चल रही है, जबकि उपजिलाधिकारी ने फोन रिसीव नहीं किया।  लेकिन सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार कोरोना पॉजिटिव मिले व्यापारी के व्यवसायिक स्थल की मार्केट व उससे लगी मार्केट और आवासीय कॉलोनी को सील किया जायेगा। साथ ही कोरोना पॉजिटिव आये व्यापारी के सम्पर्क में आये लोगों की खोजबीन कर उन्हें क्वारंटीन किया जा सकता है।

 

उत्तराखण्ड की सीमा कौड़िया में मृत मिला प्रवासी था कोरोना पॉजिटिव

कोटद्वार। कोरोना के डर से दिल्ली से अपने घर कोटद्वार तहसील में आने के लिए टैक्सी बुक कर आ रहा प्रवासी उत्तराखण्ड की सीमा पर स्थित कोरोना जांच पोस्ट कौड़िया में मृत पाया गया व्यक्ति कोरोना संक्रमित था। व्यक्ति को रिर्पोट आज शनिवार को कोरोना पॉजिटिव आई है।

ज्ञात हो कि धूरा धुनई, नाथूखाल पौखाल दुगड्डा ब्लॉक निवासी 45 वर्षीय भगवान सिंह पुत्र दयाल सिंह दिल्ली में कैलाश कॉलोनी के एक होटल में नौकरी करता था। विगत 10 जून को वह टैक्सी बुक करवाकर अपने घर के लिए निकला। इस दौरान टैक्सी में भगवान सिंह और चालक ही मौजूद था। 10 जून को सुबह करीब 11 बजे वह कौड़िया चेक पोस्ट पर पहुंचे। कौड़िया चेक पोस्ट पर मौजूद पुलिस व स्वास्थ्य कर्मियों ने उन्हें जांच कराने को कहा। टैक्सी चालक ने जब उसे जांच के लिए गाड़ी से उतरने के लिए कहा तो वह नहीं उठा और वह बेहोशी की हालत था। जिस पर चालक ने वहां पर मौजूद पुलिस व स्वास्थ्य कर्मियों को जानकारी दी। स्वास्थ्य कर्मियों ने उसे राजकीय बेस अस्पताल ले जाने को कहा था। जिस पर टैक्सी चालक भगवान सिंह को लेकर बेस अस्पताल पहुंचा था। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया था। सूचना पर प्रभारी तहसीलदार विकास अवस्थी, नायाब तहसीलदार राजेन्द्र प्रसाद ममगांई, नायाब तहसीलदार आरपी पंत बेस अस्पताल पहुंचे थे। प्रभारी तहसीलदार विकास अवस्थी ने मृतक के परिजनों व टैक्सी चालक से घटना के बारे में जानकारी ली थी। स्वास्थ्य विभाग ने मृतक भगवान सिंह का सैंपल लेकर कोरोना जांच के लिए भेज दिया था। जबकि पुलिस ने मृतक के शव को पोस्टमार्टम कराया था। मुख्य चिकित्सा अधिकारी पौड़ी गढ़वाल डॉ. मनोज कुमार बहुखण्डी ने बताया कि शनिवार सांय को मृतक भगवान सिंह नेगी पुत्र दयाल सिंह की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। उन्होंने बताया कि अभी टैक्सी चालक की कोरोना रिपोर्ट नहीं आई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!